सीएम की एंटी रोमियो स्क्वैड की लीडर है ये IPS, देखे थे बुरे दिन

योगी सरकार द्वारा शुरू की गई एंटी रोमियो स्क्वैड इन दिनों चर्चा में है। बुधवार से एक्शन में आई इस स्पेशल टीम में आईपीएस चारू निगम भी शामिल हैं।IPS बनने से पहले चारू डिप्रेशन का शिकार थीं। हम इसी लेडी ऑफिसर की स्ट्रगल स्टोरी बते रहे हैं। चारू की फैमिली आगरा से ताल्लुक रखती है। दिल्ली डीडीए में जॉब लगने के बाद उनके पिता फैमिली के साथ नई दिल्ली शिफ्ट हो गए थे। चारू की स्कूलिंग भी दिल्ली से ही हुई। चारू ने आईआईटी से बीटेक किया है। उनके पास आराम की नौकरी करने का ऑप्शन था, लेकिन पिताजी के कहने पर चारू ने पीसीएस की तैयारी शुरू की।

चारू ने पापा के कहने पर लोक सेवा आयुक्त एग्जाम की प्रिपरेशन तो शुरू कर दी, लेकिन पहली बार में सफल नहीं हो पाईं।  2010 के सिविल सर्विसेस एग्जाम में बैठीं, लेकिन निराशा ही हाथ लगी। ऐसे मुश्किल टाइम में उनका सपोर्ट बने उनके पापा। चारू ने बातचीत में बताया, पापा हमेशा मुझे सपोर्ट करते थे। उन्होंने मेरी स्टडीज में भी काफी हेल्प की
2011 में चारू के साथ हादसा हुआ। अचानक उनके पिता का निधन हो गया।  पिता का साया उठने से चारू डिप्रेशन में चली गईं। चारू बताती हैं, “मैं अंदर से टूट गई थी। मुझे लगता ही नहीं था कि मैं UPSC एग्जाम फेस भी कर सकती हूं। एक साल के डिप्रेशन के बाद मैंने खुद को संभालना शुरू किया। इस बार मम्मी ने मुझे सहारा दिया और हौसला बढ़ाया।” 2012 के सिविल सर्विसेस एग्जाम में चारू दोबारा बैठीं और सफल हुईं।

You May Also Like

English News