सीएम योगी का कर्जमाफी से भी बड़ा फैसला, हर गरीब का 35 रुपए रोजाना चुकाकर मिटाएंगे भूख

लखनऊ। यूपी की योगी सरकार गरीबों, मजदूरों, रिक्शा चालकों, कम सैलरी पाने वालों और नौकरीपेशा लोगों को 3 रुपए में नाश्ता और 5 रुपए में खाना खिलाएगी। अन्नपूर्णा भोजनालय के नाम से शुरू होने वाली इस योजना का ड्राफ्ट तैयार हो चुका है।

सीएम योगी का कर्जमाफी से भी बड़ा फैसला, हर गरीब का 35 रुपए रोजाना चुकाकर मिटाएंगे भूख

अन्नपूर्णा भोजनालय मिटाएगा गरीबों की भूख

अन्नपूर्णा भोजनालय को राज्य के 14 नगर निगमों में पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप (पीपीपी) में शुरू किया जाएगा। कैंटीन पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर खोली जाएंगी।

लखनऊ में 28, कानपुर में 28, गाजियाबाद में 20 और गोरखपुर में 18 कैंटीन पायलट प्रॉजेक्ट के तौर पर खुलेंगी। कुल 275 कैंटीन खोलने पर 153.59 करोड़ रुपए की लागत सामने आने की बात कही जा रही है।

अगर कोई नाश्ता, लंच और डिनर इस कैंटीन से करेगा तो उसकी जेब से 13 रुपए खर्च होंगे, जबकि इसकी लागत 48 रुपए आएगी। बाकी बचे 35 रुपए सरकार और कैंटीन चलाने वाला मिलकर चुकाएंगे।

नमकीन दलिया और चाय; चना और चाय; दो कचौड़ी/खस्ता/समोसा, चटनी और चाय; दो इडली, सांभर और चाय; बंद मक्खन, दो ब्रेड पकौड़ा और चाय; पोहा और चाय में से कोई एक। 

छह रोटी, मौसमी सब्जी या अरहर दाल-चावल के साथ प्याज/अचार और हरी मिर्च या वेज बिरयानी दोपहर और रात के खाने में।

कैंटीन में लोगों को प्रीपेड टोकन दिए जाएंगे। प्लास्टिक कार्ड आधार से जुड़ा होगा। कार्ड या टोकन शहर के किसी भी अन्नपूर्णा कैंटीन में मान्य होंगे। प्रीपेड टोकन 1 से 7 दिन तक वैलिड होगा। कार्ड रिचार्ज कराए जा सकेंगे।

बता दें, तमिलनाडु में अम्मा कैंटीन सस्ते खाने के लिए जानी जाती है। यहां सिर्फ 5 रुपए में अच्छी क्वालिटी का पेट भर खाना मिलता है। पानी की बोतल भी अम्मा ब्रैंड की मिलती है। यहां अम्मा चाय भी बहुत मशहूर है।

You May Also Like

English News