सीएम योगी के ताबड़-तोड़ फैसले जारी, अब स्कूल में गुरुजी के पहनावे के बाद एक और बड़ा फैसला

यूपी का काम-काज संभालने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ एक्शन में नजर आ रहे हैं, सीएम ने मांस के अवैध कारोबार, बूचड़खानों और गो-तस्करी पर लगाम कसने के साथ ही यूपी के स्कूल-कॉलेजों के बाहर लड़कियों से छेड़खानी करनेवाले मनचलों से निपटने के लिये एंटी रोमियो स्क्वॉड भी बनाया है, इसी क्रम को आगे बढ़ाते हुए सीएम ने नया आदेश दिया है कि स्कूल परिसर में मोबाइल के बेजा इस्तेमाल पर लगाम लगाया जाए, योगी आदित्यनाथ ने स्कूल-कॉलेजों में शिक्षा का बेहतर माहौल बनाने के लिये ये निर्देश जारी किया है।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिया है कि टीचर कैजुअल कपड़े यानि जींस-टीशर्ट पहनकर स्कूल ना आएं, वो अपने लिबास का खास ध्यान रखें, इसके साथ ही स्कूल परिसर में मोबाइल के बेजा इस्तेमाल पर लगाम सुनिश्चित करने के लिये भी कहा गया है। इसके इलावा स्कूल-कॉलेज परिसर के बाहर शरारती तत्वों से निपटने के लिये पुलिस को गश्त लगाने और जरुरी कदम उठाने के लिये भी कहा है, स्कूल परिसरों में पान और गुटखे के पीक का निशान नजर ना आएं, इसके लिये जल्द से जल्द कदम उठाने को कहा है। यूपी परीक्षा में नकल रोकने के लिये डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिये विभिन्न जिलों के डीएम से बात करेंगे ।

यूपी सरकार के मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा कि फाइलों के मूवमेंट पर नजर रखने के लिये फाइल इंडेक्स बनाने के भी निर्देश दिये गए हैं, इसके साथ ही सीएम ने वीवीआईपी कल्चर यानि साइरनों और हूटरों के इस्तेमाल से मंत्रियों को बचने के लिये कहा है। प्रदेश सरकार के प्रवक्ता सिद्धार्थनाथ सिंह ने बताया कि हूटर और सायरन की वजह से ध्वनि प्रदूषण होता है, इसके साथ ही इससे जनता को भी परेशानी होती है, इसीलिये मंत्रियों से निवेदन किया गया है कि वो इससे परहेज करें। आपको बता दें कि इससे पहले सीएम खुद लखनऊ के हजरतगंज कोतवाली में औचक निरिक्षण के लिये पहुंच गए थे, सीएम के अचानक पहुंच जाने की वजह से पुलिस अधिकारियों में हड़कंप मच गया था।

सीएम के साथ ही डीजीपी जाविद अहमद समेत कई बड़े अधिकारी भी मौजूद थे, सीएम ने थाने का हालात का जायजा लिया, सीएम महिला थाने का भी मुआयना करने पहुंचे, सूत्रों के अनुसार सीएम के इस औचक निरिक्षण की कई बड़े अधिकारियों को जानकारी भी नहीं थी, कहा ये जा रहा है कि सीएम इस तरह के कदम उठाकर अधिकारियों को हमेशा मुस्तैद रहने का संदेश देने की कोशिश कर रहे हैं। सीएम ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि यूपी में बहुत कुछ बदलने वाला है, ये तो केवल निरीक्षण है, और ये अंतिम नहीं है, साथ ही उन्होने ये भी कहा कि किसी भी हाल में पुलिस का मनोबल गिरने नहीं दिया जाएगा, प्रदेश के अंदर कानून का राज होगा।

You May Also Like

English News