सीतापुर में कुत्तों के हमले से मरने वालों को दो-दो लाख आर्थिक सहायताः मुख्यमंत्री

हाई कोर्ट की सख्ती के बाद आदमखोर कुत्तों द्वारा बच्चों पर हमले को लेकर प्रदेश सरकार गुरुवार देर रात हरकत में आई। हालात का जायजा लेने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ शुक्रवार को सीतापुर दौरे पर पहुंचे। हाई कोर्ट की सख्ती के बाद आदमखोर कुत्तों द्वारा बच्चों पर हमले को लेकर प्रदेश सरकार गुरुवार देर रात हरकत में आई। हालात का जायजा लेने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ शुक्रवार को सीतापुर दौरे पर पहुंचे।   मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने शुक्रवार को सीतापुर में आदमखोर कुत्तों के शिकार हुए बच्चों के परिजनों से मुलाकात की। वह पहले जिला अस्पताल में घायल बच्चों से मिले। इसके बाद गुरपलिया गांव में जाकर मृत बच्चे के परिजन से मिले। मुख्यमंत्री की ओर से मृत बच्चों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये की सहायता देने की बात कही जा रही है। इसके अलावा घायलों की मदद के लिए भी सूची मांगी गई है। अब मुख्यमंत्री पुलिस लाइन में अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे हैं। इसके बाद पत्रकारों से बातचीत करेंगे।  आदमखोर कुत्ताें से निपटने के लिए क्या कर रही सरकार  इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ खंडपीठ ने राज्य सरकार से सीतापुर सहित प्रदेश के अन्य हिस्सों में आदमखोर कुत्ताें से निपटने के लिए किये जा रहे उपायों की रिपोर्ट तलब की है। कोर्ट ने इसके लिए सरकार को एक माह का समय दिया है। अगली सुनवायी चार जुलाई को होगी। यह आदेश जस्टिस विक्रमनाथ व जस्टिस अब्दुल मोईन की बेंच ने एक स्थानीय वकील की जनहित याचिका पर पारित किया। याची ने मांग की थी कि सरकार कुत्ताें से निपटने के लिए कदम उठाये। ऐसे कुत्ताें को चिह्न्ति कर उनका नाश करने के लिए एक्शन ले। हाल ही में जिन बच्चों की कुत्ताें के काटने से मौत हुई है या जो बच्चे या वयस्क घायल हुए है उनके परिवारीजन को मुआवजा मिले। सुनवायी करते हुए कोर्ट ने कहा कि हाल ही में कुत्ताें के काटने से एक बच्चों की मौत व घायल होने की खबरें आयी हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने शुक्रवार को सीतापुर में आदमखोर कुत्तों के शिकार हुए बच्चों के परिजनों से मुलाकात की। वह पहले जिला अस्पताल में घायल बच्चों से मिले। इसके बाद गुरपलिया गांव में जाकर मृत बच्चे के परिजन से मिले। मुख्यमंत्री की ओर से मृत बच्चों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये की सहायता देने की बात कही जा रही है। इसके अलावा घायलों की मदद के लिए भी सूची मांगी गई है। अब मुख्यमंत्री पुलिस लाइन में अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे हैं। इसके बाद पत्रकारों से बातचीत करेंगे।

आदमखोर कुत्ताें से निपटने के लिए क्या कर रही सरकार

इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ खंडपीठ ने राज्य सरकार से सीतापुर सहित प्रदेश के अन्य हिस्सों में आदमखोर कुत्ताें से निपटने के लिए किये जा रहे उपायों की रिपोर्ट तलब की है। कोर्ट ने इसके लिए सरकार को एक माह का समय दिया है। अगली सुनवायी चार जुलाई को होगी। यह आदेश जस्टिस विक्रमनाथ व जस्टिस अब्दुल मोईन की बेंच ने एक स्थानीय वकील की जनहित याचिका पर पारित किया। याची ने मांग की थी कि सरकार कुत्ताें से निपटने के लिए कदम उठाये। ऐसे कुत्ताें को चिह्न्ति कर उनका नाश करने के लिए एक्शन ले। हाल ही में जिन बच्चों की कुत्ताें के काटने से मौत हुई है या जो बच्चे या वयस्क घायल हुए है उनके परिवारीजन को मुआवजा मिले। सुनवायी करते हुए कोर्ट ने कहा कि हाल ही में कुत्ताें के काटने से एक बच्चों की मौत व घायल होने की खबरें आयी हैं।

You May Also Like

English News