सीबीएसई के बाद एक और पर्चा लीक, 48 विद्यार्थी गिरफ्तार

हाल ही में जहां सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन बोर्ड (CBSE) द्वारा 10 वीं कक्षा का एक पर्चा लीक होने का ताजा मामला सामने आया था, जो कि अब तक चर्चा का विषय बना हुआ है. वहीं अब इसी सम्बन्ध में एक और भर्ती परीक्षा का पर्चा लीक होने का ताजा मामला सामने आय है. यहां ताजा मामला मध्य प्रदेश से सामने आया है. जहां फूड कार्पोरेशन ऑफ इंडिया (एफसीआई) द्वारा वॉचमैन पद पर भर्ती के लिए परीक्षा का आयोजन किया गया था. हाल ही में जहां सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन बोर्ड (CBSE) द्वारा 10 वीं कक्षा का एक पर्चा लीक होने का ताजा मामला सामने आया था, जो कि अब तक चर्चा का विषय बना हुआ है. वहीं अब इसी सम्बन्ध में एक और भर्ती परीक्षा का पर्चा लीक होने का ताजा मामला सामने आय है. यहां ताजा मामला मध्य प्रदेश से सामने आया है. जहां फूड कार्पोरेशन ऑफ इंडिया (एफसीआई) द्वारा वॉचमैन पद पर भर्ती के लिए परीक्षा का आयोजन किया गया था. इस भर्ती परीक्षा का पेपर लीक होने के मामले में विशेष कार्य बल (एसटीएफ) ने ग्वालियर में दो दलालों सहित 50 परीक्षार्थियों को गिरफ्तार किया है. इससे पहले सीबीएसई बोर्ड पेपर लीक मामले में तीन शिक्षकों को गिरफ्तार किया गया था. प्राप्त मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़ एसटीएफ ने इस मामले में मुखबिर से मिली सूचना पर भोपाल और ग्वालियर एसटीएफ की एक संयुक्त कार्रवाई के तहत ग्वालियर के पड़ाव स्थित होटल सिद्धार्थ पैलस में दबिश देकर दो दलालों एवं 48 परीक्षार्थियों को पकड़ा गया. एसटीएफ ने कुल 50 लोगों को इस मामले में गिरफ्तार किया है. एसटीएफ टीम ने जिन दो दलालों को पकड़ा है उनके नाम क्रमश: आशुतोष कुमार और हरीश कुमार हैं. ये दोनों ही दलाल राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के निवासी है. इन आरोपियों के खिलाफ पेपर लीक के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है, और इस मामले में फिलहाल विस्तृत जांच जारी है.

हाल ही में जहां सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन बोर्ड (CBSE) द्वारा 10 वीं कक्षा का एक पर्चा लीक होने का ताजा मामला सामने आया था, जो कि अब तक चर्चा का विषय बना हुआ है. वहीं अब इसी सम्बन्ध में एक और भर्ती परीक्षा का पर्चा लीक होने का ताजा मामला सामने आय है. यहां ताजा मामला मध्य प्रदेश से सामने आया है. जहां फूड कार्पोरेशन ऑफ इंडिया (एफसीआई) द्वारा वॉचमैन पद पर भर्ती के लिए परीक्षा का आयोजन किया गया था. 

इस भर्ती परीक्षा का पेपर लीक होने के मामले में विशेष कार्य बल (एसटीएफ) ने ग्वालियर में दो दलालों सहित 50 परीक्षार्थियों को गिरफ्तार किया है. इससे पहले सीबीएसई बोर्ड पेपर लीक मामले में तीन शिक्षकों को गिरफ्तार किया गया था. प्राप्त मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़ एसटीएफ ने इस मामले में मुखबिर से मिली सूचना पर भोपाल और ग्वालियर एसटीएफ की एक संयुक्त कार्रवाई के तहत ग्वालियर के पड़ाव स्थित होटल सिद्धार्थ पैलस में दबिश देकर दो दलालों एवं 48 परीक्षार्थियों को पकड़ा गया.

एसटीएफ ने कुल 50 लोगों को इस मामले में गिरफ्तार किया है. एसटीएफ टीम ने जिन दो दलालों को पकड़ा है उनके नाम क्रमश: आशुतोष कुमार और हरीश कुमार हैं. ये दोनों ही दलाल राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के निवासी है. इन आरोपियों के खिलाफ पेपर लीक के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है, और इस मामले में फिलहाल विस्तृत जांच जारी है. 

इस भर्ती परीक्षा का पेपर लीक होने के मामले में विशेष कार्य बल (एसटीएफ) ने ग्वालियर में दो दलालों सहित 50 परीक्षार्थियों को गिरफ्तार किया है. इससे पहले सीबीएसई बोर्ड पेपर लीक मामले में तीन शिक्षकों को गिरफ्तार किया गया था. प्राप्त मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़ एसटीएफ ने इस मामले में मुखबिर से मिली सूचना पर भोपाल और ग्वालियर एसटीएफ की एक संयुक्त कार्रवाई के तहत ग्वालियर के पड़ाव स्थित होटल सिद्धार्थ पैलस में दबिश देकर दो दलालों एवं 48 परीक्षार्थियों को पकड़ा गया.

एसटीएफ ने कुल 50 लोगों को इस मामले में गिरफ्तार किया है. एसटीएफ टीम ने जिन दो दलालों को पकड़ा है उनके नाम क्रमश: आशुतोष कुमार और हरीश कुमार हैं. ये दोनों ही दलाल राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के निवासी है. इन आरोपियों के खिलाफ पेपर लीक के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है, और इस मामले में फिलहाल विस्तृत जांच जारी है. 

You May Also Like

English News