सुंजवां हमला पर ओवैसी ने दिया बड़ा बयान, कहा- 6 शहीदों में 5 मुसलमान, फिर क्यों जाएं पाकिस्तान?

लोकसभा सांसद और एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने जम्मू के सुंजवां आर्मी कैंप पर हुए आतंकी हमले पर विवादित बयान दिया है. ओवैसी ने अपने दफ्तर में मीडिया से बातचीत में कहा कि आतंकी हमले में शहीद हुए छह जवानों में से पांच कश्मीरी मुस्लिम थे.सुंजवां हमला पर ओवैसी ने दिया बड़ा बयान, कहा- 6 शहीदों में 5 मुसलमान, फिर क्यों जाएं पाकिस्तान?

ओवैसी ने कहा कि जो लोग मुसलमानों को पाकिस्तान जाने के लिए कहते हैं या उन्हें पाकिस्तानी समझते हैं, उन्हें यह देखना चाहिए. ओवैसी ने जम्मू-कश्मीर में हुए आतंकी हमले की निंदा की और सत्तारूढ़ पीडीपी-बीजेपी गठबंधन पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा कि दोनों मिलकर ड्रामा कर रहे हैं और बैठकर मलाई खा रहे हैं. बीजेपी ने इसे अलगाववादी बयान बताया है.

‘मुस्लिमों की देशभक्ति पर सवाल क्यों?’

ओवैसी ने हाल ही में भारतीय मुस्लिमों को पाकिस्तानी कहने वालों को तीन साल की जेल की सजा देने की मांग भी की थी. उन्होंने कहा कि अब तथाकथित राष्ट्रवादी पांच मुस्लिमों के बलिदान पर चुप क्यों हैं. उन्होंने कहा कि मुस्लिम देश के लिए जान दे रहे हैं, लेकिन उन्हें पाकिस्तानी कहा जाता है. ओवैसी का कहना था कि एक गर्भवती मुस्लिम महिला को भी गोली लगी. उन्होंने सवाल किया है कि कश्मीरी मुस्लिमों की देशभक्ति पर सवाल क्यों खड़े किए जा रहे हैं.

‘कई आतंकी हमलों के बावजूद सबक नहीं’

ओवैसी ने कहा है कि सुंजवां में आर्मी कैंप पर 2003 में भी हमला हुआ था. तब भी इसी रास्ते का इस्तेमाल किया गया था. आतंकी एक नाले से कैंप में घुसे थे. उरी, पठानकोट या नगरोटा में आतंकी हमलों के बावजूद कोई सबक नहीं लिया गया. उन्होंने सवाल किया कि इन हमलों की जिम्मेदारी कौन लेगा, क्या यह आईबी की असफलता नहीं है?

‘मोदी फिर वेज ‘बिरयानी’ खा आएंगे’

उन्होंने जम्मू-कश्मीर की सीएम महबूबा मुफ्ती के ‘पाकिस्तान के साथ वार्ता होनी चाहिए’ वाले बयान पर भी पीएम नरेंद्र मोदी को निशाने पर लिया. उन्होंने कहा कि पीएम मोदी से पूछा जाना चाहिए कि पाकिस्तान के साथ क्या संबंध रखने हैं. उन्होंने मजाकिया अंदाज में कहा, ‘पता नहीं, मोदी कब किसकी शादी में फिर से बिना बुलाए पाकिस्तान पहुंच जाएंगे और वेज ‘बिरयानी’ खाएंगे.’

आपको बता दें कि सोमवार तड़के जम्मू के सुंजवां आर्मी कैंप पर हुए आतंकी हमले में 6 जवान शहीद हुए हैं और एक आम नागरिक की भी मौत हुई है.

श्रीनगर में दो आतंकी ढेर

सुंजवां के बाद आतंकियों ने सोमवार को ही श्रीनगर के करन नगर स्थित सीआरपीएफ हेडक्वॉर्टर पर भी हमला किया था. सुरक्षाबलों ने मंगलवार को एक इमारत में छिपे आतंकवादियों में से दो को मार गिराया है. माना जा रहा है कि एक निर्माणाधीन इमारत में कुछ और आतंकी छिपे हो सकते हैं. 

अब तक 21 जवानों की शहादत

साल 2018 में ही अब तक भारत के 21 जवान अलग अलग हमलों में शहीद हो चुके हैं. सोमवार को रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमन सुंजवां कैंप पर हमले के बाद, जम्मू पहुंची थीं. उन्होंने कहा था कि इन हमलों में जैश-ए-मोहम्मद और पाकिस्तान का हाथ था और पाकिस्तान को ऐसी हरकतों की कीमत चुकानी होगी.

loading...

You May Also Like

English News