सुबह से लेकर रात तक अपनाएँ आयुर्वेद के ये 9 नियम, जीवनभर बचे रहेंगे बिमारियों से

हर व्यक्ति को अपने स्वास्थ्य को ध्यान में रखकर दिनभर कई नियमों का पालन करना पड़ता है। जरा सी भी चूक होने पर बीमारियों का खतरा बना रहता है। आज के समय में बीमारियाँ हर किसी को अपने गिरफ्त में ले रही हैं। हर कोई किसी ना किसी बीमारी से ग्रस्त है। ऐसे में यह जरुरी हो जाता है कि खुद का अच्छे से ध्यान रखा जाये। आजकल ज्यादातर लोग अपने खान-पान का सही ढंग से ख़याल नहीं रख पाते हैं। कई बीमारियाँ तो संतुलित खान-पान ना होने की वजह से भी हो जाती हैं।

काम के सिलसिले में व्यक्ति ज्यादातर ऐसी गलतियाँ कर बैठते हैं, जिसका नतीजा यह होता है कि वह बीमार पड़ जाते हैं। स्वास्थ्य के बारे में आयुर्वेद में विस्तार से बताया गया है। अगर हम अपने रोजाना के जीवन में इन नियमों का पालन करते हैं तो बिमारियों के खतरे से बच सकते हैं। आज हम आपको आयुर्वेद के कुछ ऐसे नियमों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनका पालन करके हर व्यक्ति बीमारी से पहले ही बच सकता है।

आयुर्वेद के इन नियमों का करें पालन:

*- जब भी आप साँस लें अपने पुरे लंग्स को फुलाकर ही साँस लें। ऐसा आप पुरे दिन करें। इससे आपके शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा में बढ़ोत्तरी होगी और आपके लंग्स स्वस्थ्य रहेंगे।

*- प्यास तो हर व्यक्ति को लगती है। लेकिन जब भी प्यास लगे ठंढे पानी की जगह गुनगुना पानी पीयें। अगर पुरे दिन संभव ना हो सके तो दिन में कम से कम 2-3 गिलास गुनगुना पानी जरुर पीयें। इससे आपकी पाचन क्षमता बढ़ेगी और दिल की बिमारियों का खतरा भी कम रहेगा।

*- हर रोज सुबह नाश्ता 7-9 बजे के बीच ही कर लेना चाहिए। सुबह का नाश्ता पुरे दिन का सबसे महत्वपूर्ण मील होता है। इसमें कोताही नहीं बरतनी चाहिए। इससे आपका दिमाग एक्टिव रहेगा और एनर्जी का स्तर भी बना रहेगा।

*- खाना खाने का एक समय निर्धारित कर लें और हर रोज उसी समय खाना खाएं। खाने में एक बार में एक ही तरह की चीज खाएं। सभी चीजों को एक साथ मिलाकर नहीं खाना चाहिए।

*- खाना खाते समय पानी नहीं पीना चाहिए। खाना खाने के लगभग 40 मिनट बाद ही पानी पीयें। ऐसा करने से खाना सही तरह से पचता है। खाने के बीच में पानी पीते रहने से कब्ज की समस्या हो सकती है।

*- खाना खाने के तुरंत बाद कोई मेहनत का काम नहीं करना चाहिए। कई लोगों की आदत होती है खाना खाने के बाद नहाने की। अगर आपकी भी आदत है तो इसे तुरंत बदल दीजिये। खाना खानें के तुरंत बाद भूलकर भी नहीं नहाना चाहिए।

*- हर रोज कम से कम आधा घंटा धूप सेकें। इससे आपके शरीर को भरपूर मात्रा में विटामिन डी मिलेगा और दर्द से राहत मिलेगी। साथ ही ब्लॉक भी हटेंगे।

*- ऑफिस में काम करने वाले लोगों को दिनभर कुर्सी पर बिताना पड़ता है। ऐसे में उनके रीढ़ की हड्डी की पोजीशन सही नहीं रहती है। आप जब भी कुर्सी पर बैठें, सीधे होकर बैठें। इससे बैक पेन की समस्या नहीं होगी।

*- हर रोज रात में सही समय पर सोने की आदत डालें। कम से कम हर रोज 7-8 घंटे की भरपूर नींद लें। जिस कमरे में आप सोते हैं, उसमें हवा ले लिए सही वेंटिलेशन का इंतज़ाम होना चाहिए।

You May Also Like

English News