सुषमा के बयान से चीन को आया गुस्सा, कहा- लेकिन माना- PAK में है आतंकवाद

संयुक्त राष्ट्र महासभा में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के बयान से चीन भी बुरी तरह से तिलमिलाया हुआ है. चीन के सरकारी सुषमा स्वराज को अहंकारी बताया है. हालांकि उसने यह कुबूल किया कि पाकिस्तान आतंकवाद का पनाहगाह है. दरअसल, शनिवार को संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करने के दौरान सुषमा स्वराज ने आतंकवाद को लेकर पाकिस्तान पर जमकर हमला बोला था. साथ ही उन्होंने जैश-ए-मोहम्मद सरगना मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित कराने की भारत की कोशिशों में अड़ंगा लगाने वाले चीन को भी आड़े हाथों लिया था.सुषमा के बयान से चीन को आया गुस्सा, कहा- लेकिन माना- PAK में है आतंकवादअभी-अभी: उत्तर कोरिया ने अमेरिका को दी विमान गिराने की बड़ी चेतावनी…

संयुक्त राष्ट्र महासभा में विदेश मंत्री स्वराज ने भारत और पाकिस्तान की उपलब्धियों की भी तुलना की. उन्होंने कहा कि दोनों देशों को एक साथ आजादी मिली. भारत आईटी का सुपर पावर बन गया, जबकि पाकिस्तान आतंकवाद का पनाहगाह. वहीं, अंतरराष्ट्रीय मंच पर मसूद के मसले पर घिरने के बाद चीन की यह तिलमिलाहट सामने आई है. ग्लोबल टाइम्स के संपादकीय में कहा गया कि पाकिस्तान में आतंकवाद है, लेकिन क्या आतंकवाद का समर्थन करना देश की राष्ट्रीय नीति है?

 चीनी अखबार ने कहा कि आखिर आतंकवाद का निर्यात करके पाकिस्तान को क्या फायदा मिल सकता है? क्या पाकिस्तान को आतंकवाद का निर्यात करके पैसा या सम्मान मिल सकता है? ग्लोबल टाइम्स ने डोकलाम विवाद, वन बेल्ट वन रोड परियोजना और पाकिस्तान से अपने रिश्ते का भी जिक्र किया. उसने कहा कि भारत के इन तर्क के पीछे उसका हित छिपा है. ड्रैगन ने यह भी कहा कि भारत से उलझने का उसका कोई इरादा नहीं हैं. चीन के लिए शत्रुता रखना भी अच्छा नहीं है.

You May Also Like

English News