सृजन घोटाला में सभी जिलाधिकारियों को सरकारी खातों के बैंक स्टेटमेंट अपडेट करने का निर्देश

एक तरफ आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने सृजन घोटाले में सीधे-सीधे उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार की संलिप्तता का आरोप लगाया है. वहीं दूसरी तरफ सुशील मोदी ने राज्य के सभी जिलाधिकारियों, प्रधान सचिवों, विभागाध्यक्ष और प्रमंडलीय आयुक्त को फरमान जारी किया है कि वह अपने कार्यालय में संधारित सभी बैंक खातों के बैंक स्टेटमेंट को अपडेट कराएं और रोकड़ बही से उसका मिलान कराएं. मोदी ने आदेश दिया है कि जहां कहीं भी बैंक स्टेटमेंट और रोकड़ बही में गड़बड़ी पाई जाती है, वहां दोषी व्यक्तियों को चिन्हित करके उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए.

सृजन घोटाला में सभी जिलाधिकारियों को सरकारी खातों के बैंक स्टेटमेंट अपडेट करने का निर्देश

सभी जिला पदाधिकारियों को निर्देश

राज्य सरकार ने सभी जिला पदाधिकारियों को अविलंब ऐसी जांच कराकर प्रमाण पत्र देने को कहा है ताकि भविष्य में बैंक खातों में संधारित सरकारी राशि की शुद्धता की जांच नियमित रूप से हर माह कराकर वित्त विभाग को सूचित किया जाए.

तीन प्राथमिकी दर्ज किए गए

 उप मुख्यमंत्री ने कहा है कि अब तक सृजन घोटाले के प्रारंभिक जांच में 303 करोड़ रुपए की राशि के गबन के आधार पर तीन प्राथमिकी दर्ज की गई है और जांच के क्रम में यह बात सामने आई है कि बैंक अधिकारियों, सृजन और सरकारी अधिकारियों की मिलीभगत से जाली हस्ताक्षर, जाली बैंक स्टेटमेंट के आधार पर अवैध रूप से करोड़ों रुपए की निकासी की जा रही थी.

सीबीआई से जांच की मांग

इस मामले को लेकर आरजेडी 13 अगस्त को राज्य के सभी जिला मुख्यालयों पर इस घोटाले में सुशील मोदी की संलिप्तता को लेकर प्रदर्शन करेगी और मांग करेगी कि इस पूरे मामले की जांच सीबीआई से कराई जाए.

You May Also Like

English News