सेंसेक्स 35 अंक चढ़कर 34651 के स्तर पर, पीएसयू बैंक शेयर्स में हुई खरीदारी

 पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों से त्रस्त जनता को बड़ी राहत मिलने वाली है. कल यानी बुधवार से पेट्रोल-डीजल सस्ता हो सकता है. सरकार इसके लिए तेल कंपनियों से मिलकर नई योजना बनाने पर काम कर रही है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, इस संबंध में पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान की मंगलवार शाम तेल कंपनियों के साथ बैठक होनी है. इस बैठक में बढ़ती कीमतों को रोकने के लिए नया फॉर्मूला निकाला जा सकता है. हालांकि, अभी यह तय नहीं है कि पेट्रोल-डीजल को सस्ता करने के लिए क्या विकल्प मिलेगा. लेकिन थोड़ी राहत मिलना तय माना जा रहा है. अभी रोजाना तेल कंपनियां पेट्रोल-डीजल की कीमतें रिवाइज करती हैं.

घटेगी एक्साइज ड्यूटी या कम होंगे दाम?
पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान लगातार पेट्रोल-डीजल की कीमतों को जीएसटी के दायरे में लाने की वकालत करत रहे हैं. लेकिन, राज्य सरकारें इसके लिए तैयार नही हैं. एक्साइज ड्यूटी घटाने से भी कोई खास असर नहीं होगा और इससे सरकारी खजाने पर भी बोझ बढ़ेगा. क्योंकि, पेट्रोल-डीजल के दाम इस वक्त रिकॉर्ड ऊंचाई पर हैं. इसलिए पेट्रोलियम मंत्री तेल कंपनियों से खुद बोझ वहन करने को कह सकते हैं और रोजाना कीमतों में बदलाव नहीं होगा.

पेट्रोलियम मंत्री दे चुके हैं इशारा
दो दिन पहले पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा था कि जल्द ही सरकार बढ़ती कीमतों का समधान निकालेगी. उन्होंने कहा था कि “मैं स्वीकार करता हूं कि देश के नागरिकों, खास करके मिडिल क्लास ईंधन की कीमतों में हुई बढ़ोतरी से परेशान है.” हालांकि, अमेरिका ने ईरान से होने वाली न्यूक्लियर डील से हाथ खीचें हैं, तब से अंतरराष्ट्रीय बाजार में क्रूड ऑयल की कीमतें बढ़ी हैं. ओपेक देशों में तेल के कम उत्पादन और अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत बढ़ने के कारण दाम बढ़ाए गए हैं.

क्यों महंगा है पेट्रोल डीजल
बीते करीब 4 सप्ताह से अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेल कीमतों के बढ़ने से पेट्रोल और डीजल की महंगाई बढ़ रही है. स्थानीय सेल्स टैक्स और वैट के अनुसार हर राज्य में पेट्रोल और डीजल की कीमत अलग-अलग होती है. देश के सभी प्रदेशों की राजधानियों और मेट्रो शहरों की तुलना में दिल्ली में यह कीमतें फिर भी सबसे कम हैं. 

9 दिनों से लगातार बढ़ रही हैं कीमतें
मंगलवार को 30 पैसे के इजाफे के साथ दिल्ली में पेट्रोल अब तक के सबसे ऊंचे स्तर 76.87 रुपए पर पहुंच गया. इससे पहले दिल्ली में पेट्रोल की सबसे ज्यादा कीमत 76.06 रुपए 14 सितंबर, 2013 को हुई थी. इसके अलावा डीजल की कीमतें भी अब तक के अपने सबसे ऊंचे स्तर पर पहुंच गई हैं. कर्नाटक चुनाव से 19 दिन पहले से कीमतों में उतार-चढ़ाव पर लगी रोक 14 मई को खत्म हुई थी और तब से अब तक 9 दिनों में कीमतों में लगातार इजाफा जारी है.

मुंबई में पेट्रोल सबसे महंगा
देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में पेट्रोल की कीमत सबसे अधिक 84.70 रुपए लीटर है, जबकि भोपाल में यह कीमत 82.46 रुपए प्रति लीटर है. पटना में पेट्रोल 82.36 रुपए में बिक रहा है. हैदराबाद में 81.39 और श्रीनगर में 80.98 रुपए में पेट्रोल मिल रहा है. कोलकाता में 79.53 और चेन्नई में 32 पैसे की बढ़ोतरी के सात 79.79 रुपए में पेट्रोल की बिक्री हो रही है. सबसे सस्ता पेट्रोल पोर्ट ब्लेयर में है, जहां 66.01 रुपए में पेट्रोल मिल रहा है

You May Also Like

English News