सेलिब्रिटी के लिए मुश्किल होता है तलाक के दौरान बेल्स पाल्सी से जूझ रही एंजेलिना, क्या आप जानते हैं ये बीमारी?

डिवोर्स आम आदमी ही नहीं सेलिब्रिटी के लिए मुश्किल होता है। अपनी शादी के दो साल बाद तलाक लेना हॉलीवुड एक्ट्रेस एंजेलिना जोली के लिए भी आसान नहीं रहा। वो इस फैसले से इतनी आहत हो गई कि उन्हें हाइपरटेंशन और बेल्स पाल्सी जैसी बीमारियों का सामना करना पड़ा। इस बात का खुलासा हाल ही में उन्होंने खुद किया।सेलिब्रिटी के लिए मुश्किल होता है तलाक के दौरान बेल्स पाल्सी से जूझ रही एंजेलिना, क्या आप जानते हैं ये बीमारी?

आसान नहीं था तलाक
एंजेलिना जोली ने हाल ही में बताया कि 2016 सितंबर में अपने पति ब्रैड पिट से अलगाव के बाद उन्हें हाइपरटेंशन और बेल्स पाल्सी जैसी बीमारियों ने घेर लिया था। वो अपने बच्चों को परेशान करना नहीं चाहती थी, ऐसे में वो शॉवर में रोती थी। एंजेलिना की तलाक की अर्जी देकर ना सिर्फ फिल्मी दुनिया बल्कि खुद ब्रैड पिट को हैरत में डाल दिया था। हालांकि दोनों बच्चों की अच्छी परवरिश के लिए अब एक-दूसरे के संपर्क में है।

इसे भी पढ़ें: RJD अध्यक्ष लालू प्रसाद ने नीतीश-मोदी से बदला लेने के लिए खेला ये ‘दांव’…

क्या है बेल्स पाल्सी 

बेल्स पाल्सी एक तरह का अस्थाई लकवा होता है। इसे फेशियल पैरालिसिस भी कहते है। इस बीमारी से उनके चेहरे का एक हिस्सा लटकने लगा था। यह चेहरे के केवल एक हिस्से को प्रभावित करता है।

ये बीमारी मधुमेही रोगी, गर्भवती महिलाओं आदि को होने की संभावना ज्यादा रहती है। इसके लक्षण अचानक दिखाई दे सकते हैं और शुरू होने के 48 घंटे के बाद अपने सबसे गंभीर रूप में आ सकते हैं।

किसी वायरल संक्रमण की वजह से चेहरे की नस सूजन या फिर सिकुड़न आ जाती है। इससे चेहरा या तो लटकने लगता है या फिर अकड़ जाता है। बेल्स पाल्सी में रोगी को प्रभावित हिस्से की आंख को बंद करने में परेशानी होती है। यहां तक मुंह खोलने या हंसने में भी दिक्कत होती है।

चार में से तीन मरीज बिना किसी इलाज के सही हो जाते हैं। उपचार के साथ या इसके बिना, ज्यादातर लोग 2 हफ्ते के अंदर बेहतर होने लगते हैं और 3 से 6 महीने में पूरी तरह ठीक हो जाते हैं। यूके में हर साल 1 लाख लोगों में से 20 से 40 फीसदी लोग इस बीमारी से जूझते हैं।

इसे भी पढ़ें: अभी-अभी: इस बड़े पूर्व सपा नेता के फैक्ट्री में चल रहा था ये काला धंधा, फिरसे शर्मिंदा हुई पूरी पार्टी…

ब्रेस्ट कैंसर से भी लड़ चुकी है

2013 में ब्रेस्ट कैंसर के खतरे चलते एंजेलिना ने प्रिवेन्टिव डबल मासटेकटॉमी ऑपरेशन (ब्रेस्ट सर्जरी) करवाया था। इस ऑपरेशन में एंजेलिना के दोनों स्तनों को हटा दिया गया था। एंजेलिना की ब्रेस्‍ट में पाए गए इस कैंसर जीन से उन्‍हें 87 फीसदी ब्रेस्‍ट कैंसर और 50 फीसदी गर्भाशय के कैंसर का खतरा था।

loading...

You May Also Like

English News