सोनिया, राहुल, प्रियंका ने दी राजीव गांधी को श्रद्धांजलि

देश के पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय राजीव गांधी की आज 27वीं पुण्यतिथि है. उनकी पत्नी और कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी समेत तमाम कांग्रेस नेताओं ने सुबह वीर भूमि जाकर उन्हें श्रद्धांजलि दी. सोनिया गांधी के अलावा पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, उनकी बहन प्रियंका गांधी और रॉबर्ट वाड्रा समेत पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी भी वीर भूमि पहुंचे. साथ ही सुशील कुमार शिंदे और लोकसभा में नेता कांग्रेस मल्लिकार्जुन खड़गे ने भी पूर्व पीएम राजीव गांधी को श्रद्धांजलि अर्पित की.देश के पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय राजीव गांधी की आज 27वीं पुण्यतिथि है. उनकी पत्नी और कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी समेत तमाम कांग्रेस नेताओं ने सुबह वीर भूमि जाकर उन्हें श्रद्धांजलि दी. सोनिया गांधी के अलावा पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, उनकी बहन प्रियंका गांधी और रॉबर्ट वाड्रा समेत पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी भी वीर भूमि पहुंचे. साथ ही सुशील कुमार शिंदे और लोकसभा में नेता कांग्रेस मल्लिकार्जुन खड़गे ने भी पूर्व पीएम राजीव गांधी को श्रद्धांजलि अर्पित की.   कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने पिता की पुण्यतिथि के मौके पर ट्वीट कर उनके आदर्शों को याद किया. राहुल ने ट्वीट में लिखा, 'मेरे पिता ने मुझे सिखाया कि नफरत उन लोगों के लिए जेल है जो इसे लेकर चलते हैं. आज उनकी पुण्यतिथि पर मैं उन्हें धन्यवाद कहना चाहता हूं कि उन्होंने मुझे सभी लोगों से प्यार और सम्मान करना सिखाया. एक बेटे का अपने पिता के लिए सबसे मूल्यवान उपहार. राजीव गांधी, हम सब आपसे प्यार करते हैं और आप हमेशा हमारे दिल में रहेंगे.'  गौरतलब है कि लिट्टे उग्रवादियों ने 1991 में 21 मई को देश के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को मर दिया था. श्रीलंका में शांति सेना भेजने से नाराज तमिल विद्रोहियों के संगठन लिट्टे ने तमिलनाडु के श्रीपेरम्बदूर में राजीव पर आत्मघाती हमला किया था. स्वर्गीय राजीव गांधी श्रीपेरम्बदूर में लोकसभा चुनाव के लिए प्रचार कर रहे थे. तभी उनके पास एक महिला फूलों का हार लेकर आई और उनके बहुत करीब जाकर अपने शरीर को बम से उड़ा दिया. धमाका इतना जबरदस्त था कि उसकी चपेट में आने वाले ज्यादातर लोगों के मौके पर ही परखच्चे उड़ गए. 46 साल के राजीव गांधी भी उस हमले में नहीं बच पाए थे.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने पिता की पुण्यतिथि के मौके पर ट्वीट कर उनके आदर्शों को याद किया. राहुल ने ट्वीट में लिखा, ‘मेरे पिता ने मुझे सिखाया कि नफरत उन लोगों के लिए जेल है जो इसे लेकर चलते हैं. आज उनकी पुण्यतिथि पर मैं उन्हें धन्यवाद कहना चाहता हूं कि उन्होंने मुझे सभी लोगों से प्यार और सम्मान करना सिखाया. एक बेटे का अपने पिता के लिए सबसे मूल्यवान उपहार. राजीव गांधी, हम सब आपसे प्यार करते हैं और आप हमेशा हमारे दिल में रहेंगे.’

गौरतलब है कि लिट्टे उग्रवादियों ने 1991 में 21 मई को देश के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को मर दिया था. श्रीलंका में शांति सेना भेजने से नाराज तमिल विद्रोहियों के संगठन लिट्टे ने तमिलनाडु के श्रीपेरम्बदूर में राजीव पर आत्मघाती हमला किया था. स्वर्गीय राजीव गांधी श्रीपेरम्बदूर में लोकसभा चुनाव के लिए प्रचार कर रहे थे. तभी उनके पास एक महिला फूलों का हार लेकर आई और उनके बहुत करीब जाकर अपने शरीर को बम से उड़ा दिया. धमाका इतना जबरदस्त था कि उसकी चपेट में आने वाले ज्यादातर लोगों के मौके पर ही परखच्चे उड़ गए. 46 साल के राजीव गांधी भी उस हमले में नहीं बच पाए थे.

You May Also Like

English News