सोमनाथ भारती: कपिल के आरोपों में सच्चाई नहीं, किसी के इशारों पर कर रहे काम

कपिल शर्मा के आरोपों के बाद आम आदमी पार्टी अरविंद केजरीवाल के पक्ष में खड़ी नजर आ रही है. मामले में पार्टी के विधायक सोम भारती का कहना है कि जिस ढंग से कपिल मिश्रा ने आरोप लगाए हैं, उस पर कोई विश्वास नहीं कर पा रहा है. इस बाबत उनके पास कोई सबूत भी नहीं हैं. इसी देश के अंदर ऐसी ही एक और घटना जस्टिस कर्णन की घटी. कर्णन की तरह कपिल मिश्रा भी पार्टी के अंदर हरकत कर रहे हैं. यह कोई बड़ी बात नहीं है.ये भी पढ़े: खुद करोडों के कर्ज में दबा था लेकिन यात्री के 8 लाख रुपए…

कपिल शर्मा के आरोपों के बाद आम आदमी पार्टी अरविंद केजरीवाल के पक्ष में खड़ी नजर आ रही है. मामले में पार्टी के विधायक सोम भारती का कहना है कि जिस ढंग से कपिल मिश्रा ने आरोप लगाए हैं, उस पर कोई विश्वास नहीं कर पा रहा है. इस बाबत उनके पास कोई सबूत भी नहीं हैं. इसी देश के अंदर ऐसी ही एक और घटना जस्टिस कर्णन की घटी. कर्णन की तरह कपिल मिश्रा भी पार्टी के अंदर हरकत कर रहे हैं. यह कोई बड़ी बात नहीं है.

भारती ने कहा, ‘मैंने कई बार केजरीवाल और कपिल से कहा कि मुझे पानी को लेकर शिकायतें मिल रही हैं. परेशानियां उठानी पड़ रही है, लेकिन यह भी सत्य है कि कपिल जिस मंत्रालय के मंत्री थे, उस मंत्रालय ने कई सारे ऐतिहासिक काम भी किए हैं. चुनाव वाले महीने में पानी को लेकर काफी तकलीफ हुई थी. विधायकों को भी जमीनी स्तर पर इन मुसीबतों को झेलना पड़ा. इसके चलते चुनाव बुरी तरह प्रभावित हुआ. उन्होंने कहा कि जल मंत्रालय के कुप्रबंधन के कारण पार्टी को भारी नुकसान उठाना पड़ा.

सोमनाथ भारती का कहना है कि मंत्रालय से हटा दिया, तो कोई बड़ी बात नहीं है. मंत्रालय में रखा ही क्या है? ऐसे मंत्रालय देश के लिए कर्बान किए जा सकते हैं, लेकिन उन्होंने इसको दिल से ले लिया है. उनको क्या हुआ है? किसके हाथ में वह खेल रहे हैं? समझ में नहीं आ रहा है? अब BJP को हाथ धोने का मौका मिल रहा है. यह दुर्भाग्यपूर्ण और कष्ट पहुंचाने वाला है.

जांच के सवाल पर सोमनाथ भारती का कहना है कि जितनी भी जांच एजेंसियां है, सभी केंद्र सरकार के नियंत्रण में हैं. चाहे सीबीआई हो, दिल्ली पुलिस हो या ईडी हो या इनकम टैक्स हो या फिर दिल्ली एंटी करप्शन ब्रांच हो. ऐसे में केजरीवाल के खिलाफ जांच से कौन रोक रहा है. उन्होंने कहा कि एसीबी ने भी कह दिया है कि कपिल मिश्रा के पास कोई सबूत नहीं है. बेबुनियाद आरोप कोई भी लगा सकता है.

 ये भी पढ़े: योगी सरकार पुलिस कार्यप्रणाली में कर सकती है बड़ा बदलाव,आज होगी कैबिनेट बैठक!

You May Also Like

English News