सोशल मीडिया की बड़ी खबर का खुलासा #मोदी की हवा टाइट है

सोशल मीडिया की बड़ी खबर #मोदी की हवा टाइट है के पीछे के सत्य का खुलासा करेंगे आज TosNews पर हम पीएम नरेन्द्र मोदी पिछले तीन दिनों से ही वाराणसी में लोगों को सबोधित करने में क्यों पसीना बहा रहे हैं और क्या है वाराणसी के लोगों का सोचना उनके बारे में, आइये तथ्यों को समझने की कोशिश करें.
पीएम मोदी ने 2014 के मुकाबले में इस बार के चुनाव प्रचार में अधिक समय वाराणसी में बिताया. सोमवार को वे गंगा घाट स्थित गढ़वाघट आश्रम जायेंगे, विदित है कि यादव बाहुल्य क्षेत्र इसी आश्रम के पास है. इस आश्रम पर सपा नेता शिवपाल यादव भी अपने परिवार के साथ पहले आते रहे हैं. आश्रम के करीब 2 करोड़ अनुयायी हैं और यह 1930 में श्री श्री १००८ स्वामी अध्वैतानन्दजी महाराज द्वारा स्थापित किया गया था.
मोदी को लगातार तीन दिन तक अल्पसंख्यकों और अन्य समुदायों को संबोधित करने के लिए क्यों वाराणसी में इतना समय बिताना पड़ा? शहर के नदेसर क्षेत्र के मेराज किदवई, जो कि अध्यापक भी हैं कहते हैं, “उनका संसदीय क्षेत्र है उसे कैसे भूल सकते हैं, समय तो बिताना ही चाहिए.”
कैंट क्षेत्र की कॉर्पोरेट में काम करने वाली नीता मिश्र कहती हैं, “कौन प्रधानमंत्री देता है इतना समय अपने क्षेत्र को, आज मोदीजी की वजह से ही तो दुनिया वाराणसी और उसके छोटे इलाकों का नाम जानने लगी है.”
कैंट क्षेत्र के ही नदीम हुसैन कहते हैं, “कमज़ोर सीटो की मरम्मत करने आये हैं मोदी शायद दुरुस्त भी हो गयी हों अब!”
बीजेपी के कार्यकर्ताओं की मानें तो विधानसभा चुनाव की तय्यारी के तहत अपने संसदीय क्षेत्र की कमज़ोर हो गयी सीटों पर काम करने के लिए ही मोदी को इतना समय वाराणसी को देना पड़ा.
तेलिया बाग़ क्षेत्र के अनिल यादव ने कहा, “कोई नाराजगी नहीं है मोदीजी से, हम तो बहुत वीआइपी महसूस करने लगे हैं जबसे मोदीजी यहाँ से जीते हैं और हमें इतना समय दे रहे हैं.”
अमरदीप सिंह जो की चौक घाट क्षेत्र के रहने वाले हैं कहते हैं, “नोटबंदी से छक्का मारा है मोदी ने !”
आज नरेन्द्र मोदी रामनगर में स्व. लाल बहादुर शास्त्री के घर जायेंगे और फिर उनकी समाधि पर श्रद्धांजलि अर्पित करने जायेंगे.
तो #मोदी की हवा टाइट है इसपर वाराणसी वासियों का ये जवाब था लेकिन उनकी असल सोच क्या है इसका खुलासा अभी बाकी है. वाराणसी में मतदान मार्च 8 को होगा और साथ ही 6 अन्य जिलों में भी इसी दिन वोट डाले जायेंगे.

You May Also Like

English News