ध्यान दें! इटरनेट पर वायरल हुआ पीएम मोदी का फर्जी संदेश, सरकार की अपील- इस पर ना करें भरोसा

पिछले साल सोशल मीडिया पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम से फेक मैसेज वायरल हुआ था। जिसपर पीएमओ इंडिया को खुद ट्वीट कर सफाई देनी पड़ी थी। एक बार फिर सोशल मीडिया पीएम मोदी के हस्ताक्षर वाला मैसेज वायरल हो रहा है। ये मैसेज सोशल मीडिया के साथ व्हाट्सएप और इंस्टेंट मैसेसिंग एप पर भी तेजी से वायरल हो रहा है।

वायरल मैसेज में लोगों से अपील की गई है कि दीपावली पर केवल भारत में बने सामानों का ही इस्तेमाल करें। जानकारी के लिए बता दें कि पिछले साल भी पीएम के नाम से ऐसा ही एक मैसेज वायरल हुआ था। जिसमें चाईनीज सामानों का बहिष्कार करने की बात कही गई थी। मैसेज में कहा गया था कि कोई भी भारतीय दीपावली पर चीन में बनी लाइटों, पटाखों और अन्य चीजों का इस्तेमाल ना करे। दूसरी तरफ वर्तमान में वायरल हो मैसेज में कहा गया है कि ये कदम चीन के उस फैसले के बाद उठाया गया है जिसमें वह संयुक्त राष्ट्र में भारत सहयोगी देशों द्वारा पेश किए गए प्रस्ताव का लगातार विरोध कर रहा है। वायरल मैसेज के अनुसार चीन आंतकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के मुखिया मसूद अजहर को हर बार बचाता रहा है।

ये भी पढ़े: अभी-अभी : विपक्ष के निशाने पर आई केंद्र सरकार, अब GST में खत्म होंगे 12 और 18 प्रतिशत के टैक्स स्लैब!

बता दें कि भारत मसूद को वैश्विक आतंकी घोषित करने का लगातार समर्थन करता है, जबकि चीन ने हर बार इसमें हस्तक्षेप किया है। खबर के अनुसार ये झूठी खबर भारत और चीन के बीच चल रहे डोकलाम विवाद को देखते हुए भी वायरल की जा रही है। गौरतलब है कि साल 2016 में प्रधानमंत्री ऑफिस (पीएमओ) ने सोशल मीडिया यूजर्स से ऐसे सभी फर्जी संदेश को अनदेखा करने के लिए कहा था। पीएमओ ने इसके साथ एक बिलर तस्वीर भी शेयर की थी जिसमें बताया गया कि फर्जी पोस्ट इस तरह की भी हो सकती है।

 

MEDIA

View image on Twitter

View image on Twitter

Few appeals with PM’s ‘signature’ are circulated on social media. Such documents are not authentic.

You May Also Like

English News