स्टुटगार्ट ग्रां प्री में हारी शारापोवा

 मारिया शारापोवा को स्टुटगार्ट ग्रां प्री के पहले दौर में फ्रांस की छठी वरीय कैरोलिन गार्सिया के खिलाफ शिकस्त का सामना करना पड़ा. गार्सिया ने पहला सेट गंवाने के बाद जोरदार वापसी करते हुए शारापोवा को 3-6, 7-6, 6-4 से हराया. गार्सिया अगले दौर में उक्रेन की क्वालीफायर मार्ता कोस्त्युक से भिड़ेंगी जिन्होंने एंटोनिया लोटनर को 6-4, 6-1 से हराया. पांच बार की ग्रैंडस्लैम चैंपियन शारापोवा ने मैच के बाद कहा, ‘‘यह वो नतीजा नहीं है जो मैं चाहती थी लेकिन मैं इस मैच के सकारात्मक पक्षों पर ध्यान दूंगी. मैं पिछले कुछ हफ्तों से नहीं खेली थी लेकिन मैंने ठोस खेल दिखाया और सही चीजें की.’’स्टुटगार्टः मारिया शारापोवा को स्टुटगार्ट ग्रां प्री के पहले दौर में फ्रांस की छठी वरीय कैरोलिन गार्सिया के खिलाफ शिकस्त का सामना करना पड़ा. गार्सिया ने पहला सेट गंवाने के बाद जोरदार वापसी करते हुए शारापोवा को 3-6, 7-6, 6-4 से हराया. गार्सिया अगले दौर में उक्रेन की क्वालीफायर मार्ता कोस्त्युक से भिड़ेंगी जिन्होंने एंटोनिया लोटनर को 6-4, 6-1 से हराया. पांच बार की ग्रैंडस्लैम चैंपियन शारापोवा ने मैच के बाद कहा, ‘‘यह वो नतीजा नहीं है जो मैं चाहती थी लेकिन मैं इस मैच के सकारात्मक पक्षों पर ध्यान दूंगी. मैं पिछले कुछ हफ्तों से नहीं खेली थी लेकिन मैंने ठोस खेल दिखाया और सही चीजें की.’’   स्टटगार्ट ओपन में खेल रहीं शारापोवा ने कहा, मैंने ग्रैंड स्लेम जीत का अनुभव किया है और इसलिए मैं हमेशा इसी के बारे में सोचती हूं. उन्होंने कहा, मेरा यह कहना गलत होगा कि इस वर्ष मेरा लक्ष्य निचले स्तर के टूर्नामेंट जीतना है बल्कि मैं सच कहूं तो अब मैं बड़े टूर्नामेंट जीतना चाहती हैं. मैंने पहले भी इसका अनुभव किया है और मैं जानती हूं कि यह अहसास अलग ही होता है. मैं इसे पाने के लिए लगातार मेहनत कर रही हूं.  शारापोवा ने पिछले  वर्ष अप्रैल में स्टटगार्ट ग्रां प्री से वापसी की थी और उसके बाद से केवल तियानजिन ओपन के रूप में एक ही खिताब जीता है. खराब प्रदर्शन और चोट की समस्या के कारण रूसी टेनिस खिलाड़ी ने इस वर्ष बेहतर खेल के साथ ग्रैंड स्लेम जीतने का भरोसा जताया है. शारापोवा ने वर्ष 2014 में फ्रेंच ओपन के रूप में करियर का पहला ग्रैंड स्लेम जीता था. उन्होंने अपने संन्यास की योजना से इंकार करते हुए कहा, मैंने अपने लिए कोई योजना नहीं बनाई है.

स्टटगार्ट ओपन में खेल रहीं शारापोवा ने कहा, मैंने ग्रैंड स्लेम जीत का अनुभव किया है और इसलिए मैं हमेशा इसी के बारे में सोचती हूं. उन्होंने कहा, मेरा यह कहना गलत होगा कि इस वर्ष मेरा लक्ष्य निचले स्तर के टूर्नामेंट जीतना है बल्कि मैं सच कहूं तो अब मैं बड़े टूर्नामेंट जीतना चाहती हैं. मैंने पहले भी इसका अनुभव किया है और मैं जानती हूं कि यह अहसास अलग ही होता है. मैं इसे पाने के लिए लगातार मेहनत कर रही हूं.

शारापोवा ने पिछले  वर्ष अप्रैल में स्टटगार्ट ग्रां प्री से वापसी की थी और उसके बाद से केवल तियानजिन ओपन के रूप में एक ही खिताब जीता है. खराब प्रदर्शन और चोट की समस्या के कारण रूसी टेनिस खिलाड़ी ने इस वर्ष बेहतर खेल के साथ ग्रैंड स्लेम जीतने का भरोसा जताया है. शारापोवा ने वर्ष 2014 में फ्रेंच ओपन के रूप में करियर का पहला ग्रैंड स्लेम जीता था. उन्होंने अपने संन्यास की योजना से इंकार करते हुए कहा, मैंने अपने लिए कोई योजना नहीं बनाई है.

You May Also Like

English News