हंगामे के कारण संसदीय दल की बैठक हुई ठप, शाह बोले- राहुल की राजनीति अलोकतांत्रिक

संसद में जारी गतिरोध के बीच आज सुबह बीजेपी संसदीय दल की बैठक हुई, जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह सहित दोनों सदनों के पार्टी सांसद शामिल हुए। बैठक में कांग्रेस और टीडीपी सांसदों द्वारा लगातार संसद में हंगामे से निपटने की रणनीति पर चर्चा हुई। करीब एक घंटे की चली बैठक में पार्टी अध्यक्ष ने सांसदों के बीच कई बातें साझा कीं।हंगामे के कारण संसदीय दल की बैठक हुई ठप, शाह बोले- राहुल की राजनीति अलोकतांत्रिक

फिर से ट्रंप के ऊपर आई एक नयी मुसीबत, अमेरिका पर एकबार ‘शटडाउन’ का खतरा

संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार ने बैठक की जानकारी देते हुए पार्टी अध्यक्ष अमित शाह का पक्ष मीडिया के सामने रखा। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण के दौरान बीच में हंगामा करना ही कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की राजनीति का हिस्सा है, जो कि बेहद अलोकतांत्रिक है।

दरअसल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की राज्यसभा में रेणुका चौधरी पर चुटीले अंदाज में की गई टिप्पणी पर उठा बवाल थम नहीं रहा है। शुक्रवार को जब सदन की कार्यवाही शुरू हुई तो हंगामे के कारण दोनों सदनों की कार्यवाही 12 बजे तक स्थगित कर दी गई। बजट को लेकर लोकसभा में टीडीपी सांसदों की नारेबाजी के कारण लोकसभा में खूब हो-हल्ला हुआ।

वहीं कांग्रेस की वरिष्ठ नेता रेणुका चौधरी ने सभापति वेकैंया नायडू से मिलकर विशेषाधिकार हनन का नोटिस दिया है। आज लोकसभा में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी बोल सकते हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, राहुल गांधी ने स्पीकर सुमित्रा महाजन को लिखित नोटिस दिया है।

दरअसल, रामायण सीरियल का हवाला देकर प्रधानमंत्री जिस तरह भाषण के दौरान सांसद रेणुका चौधरी की हंसी पर कटाक्ष किया उसका असर बुधवार को तो नहीं दिखा, लेकिन बृहस्पातिवार को केंद्रीय गृह राज्यमंत्री किरेन रिजजू के वीडियो और टिप्पणी से रेणुका और कांग्रेस भड़क गई। रिजजू ने अपने ट्वीट और फेसबुक पर रामायण से जुड़े सीरियल का एक दृश्य अटैच किया उसके बाद मामले ने तूल पकड़ा।

You May Also Like

English News