हर ‘सिगरेट पीने वाली और टैटू बनवाने वाली लड़कियां चरित्रहीन नहीं होतीं’…

‘हम एक ऐसे समाज का हिस्सा हैं जहां लोग इस बात दुहाई देते नजर आते हैं कि एक लड़की को कैसे कपड़े पहनने चाहिए और उसे कैसे पेश आना चाहिए? बहुत दुखद है कि हमारे देश में स्मोकिंग करने और टैटू बनाने वाली लड़कियों को बदचलन समझा जाता है,’ यह कहना बॉलीवुड की यंग एक्ट्रेस कृति सैनन का.हर 'सिगरेट पीने वाली और टैटू बनवाने वाली लड़कियां चरित्रहीन नहीं होतीं'...

इनदिनों अपनी आने वाली फिल्म बरेली की बरफी के प्रमोशन में जुटी कृति ने एक इवेंट में देश में महिलाओं को लेकर समाज के नजरिए पर अपनी राय शेयर की. फिल्म ‘बरेली की बरफी’ के ट्रेलर में कृति सैनन एक सीन में फ्रेंड्स के साथ सिग्रेट और शराब पीती नजर आ रही हैं. इस फिल्म में बिंदास गर्ल के अंदाज में नजर आ रहीं कृति सैनन ने लड़कियों को लेकर समाज की सोच के बारे में कहा- ‘सिगरेट पीना सेहत के लिए हानि‍कारक है और नहीं पीनी चाहिए. मैं सिगरेट नहीं पीती, लेकिन जिस बात को हमें समझने की जरूरत है वो ये है कि जो लड़किया स्मोक करती हैं या बॉडी आर्ट करवाती हैं वे बदचलन नहीं होतीं.

आलिया भट्ट अब नहीं हैं सिद्धार्थ मल्होत्रा की गर्लफ्रेंड, Confirm हुआ ब्रेकअप

कृति ने आगे कहा, हमारी सोसायटी ने ‘अच्छी लड़कियां’ कैसी होनी चाहिए उसे लेकर बेहद छोटा दायरा बनाया है. इस दायरे को बड़ा करने और इसे बदलने की जरूरत है. अगर कोई लड़का मुंहफट है या सिगरेट पीता है तो उस पर कोई उंगली नहीं उठाई जाती और ना ही उसे कैरेक्टरलेस समझा जाता है लेकिन लड़कियों के मामले में बहुत जल्दी लोग अपना जजमेंट देना शुरू कर देते हैं. इस तरह की चीजें छोटे शहरों में ज्यादा देखने को मिलती हैं. यहां तक कि एक अरेंज मैरिज में भी ऐसा ही है तमाम तरह के सवाल लड़की से ही पूछे जाते हैं. मैं इस तर‍ह की सोच को बदलना चाहती हूं.’

You May Also Like

English News