हवा में टूटी कॉकपिट की खिड़की, विमान से बाहर लटक गया को-पायलट, मचा हडकंप…

 

तिब्बत के सिचुआन एयरलाइंस विमान के उड़ान भरने के एक घंटे के भीतर कॉकपिट की खिड़की टूट गई। इसके तुरंत बाद विमान के सह-पायलट आंशिक रूप से कॉकपिट के बाहर आ गए और विमान में अफरा तफरी मच गई। इस दौरान विमान के अंदर का तापमान मायनस 40 डिग्री सेंटीग्रेड तक पहुंच गया और अंदर खाने-पीने का सामान बिखर गया।हवा में टूटी कॉकपिट की खिड़की, विमान से बाहर लटक गया को-पायलट, मचा हडकंप...

 

फ्लाइटव्यू डॉट कॉम ने पायलट लियू चुआनजियन के हवाले से बताया कि उड़ान संख्या 8633 चोंगकिंग के दक्षिण-पश्चिम महानगर को करीब साढ़े छह बजे छोड़ दिया और नौ बजे तिब्बत की राजधानी ल्हासा से 1,500 मील दूर पश्चिम में था। इसी दौरान विमान की विंडशील्ड जोर की आवाज के साथ टूट गई। पायलट ने एक वीडियो में कहा कि इसी दौरान मैंने देखा कि मेरे सह-पायलट का आधा शरीर खिड़की से लटक गया। सौभाग्य से वह सीट बेल्ट पहने हुए थे। यात्रियों में अफरा तफरी देखकर उन्होंने घोषणा की, घबराएं नहीं, हम हालात संभाल लेंगे।

इसके बाद बीस मिनट के भीतर विमान की सफल आपात लैंडिंग कराई गई। पायलट लियू ने बताया कि, इसके बाद मैंने एयर ट्रैफिक कंट्रोल को सूचना दी और उनके निर्देशों का पालन किया, जिसके बाद हम सभी सुरक्षित जमीन पर उतर पाए। उन्होंने बताया कि मैं इस रूट पर 100 से ज्यादा बार उड़ान भर चुका हूं, जिसका मुझे फायदा मिला।

सह-पायलट का इलाज जारी, शेष यात्रियों को छुट्टी
सिचुआन एयरलाइंस ने हादसा टलने के बाद ट्विटर जैसी माइक्रोब्लागिंग साइट वेबो पर एक पोस्ट में कहा कि विमान के 119 यात्रियों में से 29 को स्वास्थ्य परीक्षण के लिए अस्पताल भेज दिया गया है। खिड़की से लटक गए सह-पायलट को कमर में चोट आई है जिसका फिलहाल इलाज किया जा रहा है। उसे शरीर में कई जगह खरोंचें भी आई हैं। अन्य यात्रियों को छुट्टी दे दी गई है।

चीन ने पायलट को बताया हीरो
दक्षिण-पश्चिम चीन में कॉकपिट की खिड़की टूटने के बाद विमान की सुरक्षित लैंडिंग कराने वाले पायलट को चीन ने हीरो करार देते हुए प्रशंसा की। चीन ने कहा कि पायलट लियू चुआनजियन ने विमान को 800-900 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से विमान को जिस तरह बीस मिनट में सफलतापूर्वक लैंडिंग कराई वह बेहद मुश्किल थी। 

 

You May Also Like

English News