हारमोंस को बैलेंस में रखने के लिए करें इन चीजों का सेवन

स्वस्थ शरीर के लिए हारमोंस का बैलेंस में होना बहुत जरूरी होता है. हार्मोन के असंतुलन के कारण पूरे शरीर पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ता है और मानसिक विकास में भी रुकावट आती है.  हारमोंस के असंतुलित होने का कारण तनाव, खानपान या जेनेटिक रीज़न हो सकते हैं. शरीर में मौजूद अलग-अलग तरह के हारमोंस मेटाबॉलिज्म को कंट्रोल में रखने का काम करते हैं. आज हम आपको कुछ ऐसी चीजों के बारे में बताने जा रहे हैं जिनका सेवन करने से आपके हारमोंस कंट्रोल में रहेंगे. स्वस्थ शरीर के लिए हारमोंस का बैलेंस में होना बहुत जरूरी होता है. हार्मोन के असंतुलन के कारण पूरे शरीर पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ता है और मानसिक विकास में भी रुकावट आती है.  हारमोंस के असंतुलित होने का कारण तनाव, खानपान या जेनेटिक रीज़न हो सकते हैं. शरीर में मौजूद अलग-अलग तरह के हारमोंस मेटाबॉलिज्म को कंट्रोल में रखने का काम करते हैं. आज हम आपको कुछ ऐसी चीजों के बारे में बताने जा रहे हैं जिनका सेवन करने से आपके हारमोंस कंट्रोल में रहेंगे.   1- रासबेरी के पत्तों में भरपूर मात्रा में विटामिन बी और मिनरल्स मौजूद होते हैं. रासबेरी की पत्तियों की चाय पीने से हैवी ब्लड फ्लो होने से रुकता है.  इसके अलावा रासबेरी के पत्तों की चाय पीने से पीरियड का दर्द भी कम हो जाता है.   2- अगर आप अपने हारमोंस को बैलेंस में रखना चाहते हैं तो अश्वगंधा का सेवन करें. अश्वगंधा हारमोंस को बैलेंस में रखने के साथ-साथ तनाव को कम करने का काम भी करता है.   3- जई  की डंठल में भरपूर मात्रा में मैग्नीशियम, कैल्शियम और सिलिका मौजूद होते हैं. जो हारमोंस को बैलेंस में रख के नर्वस सिस्टम को शांत रखते हैं.

1- रासबेरी के पत्तों में भरपूर मात्रा में विटामिन बी और मिनरल्स मौजूद होते हैं. रासबेरी की पत्तियों की चाय पीने से हैवी ब्लड फ्लो होने से रुकता है.  इसके अलावा रासबेरी के पत्तों की चाय पीने से पीरियड का दर्द भी कम हो जाता है. 

2- अगर आप अपने हारमोंस को बैलेंस में रखना चाहते हैं तो अश्वगंधा का सेवन करें. अश्वगंधा हारमोंस को बैलेंस में रखने के साथ-साथ तनाव को कम करने का काम भी करता है. 

3- जई  की डंठल में भरपूर मात्रा में मैग्नीशियम, कैल्शियम और सिलिका मौजूद होते हैं. जो हारमोंस को बैलेंस में रख के नर्वस सिस्टम को शांत रखते हैं.

You May Also Like

English News