हुदहुद…सुनामी…ओखी : कहाँ से आती है, कहाँ को जाती है?

पिछले दिनों देश के कई समुद्रतटीय भागों में ‘ओखी’ साइक्लोन की खूब चर्चा हो रही थी. जहां देखो वहां इनकी ताबाही के चर्चे सुनने को मिल रहे थे. मतलब तबाही के आगे भी कई सवाल हैं जिनके बारे में सोचा जा सकता है, कैसे इसे रोका जा सकता है. आखिर क्या है साइक्लोन और कैसे रखे जाते हैं जिनके नाम, आइये जानते हैं-हुदहुद...सुनामी...ओखी : कहाँ से आती है, कहाँ को जाती है?

साइक्लोन या चक्रवात क्या है-
समुद्री तूफ़ान को साइक्लोन कहते हैं. भूमध्य रेखा (Equator) के आसपास स्थित समुद्रों में चक्रवात आते हैं. इसमें समुद्र के ऊपर की हवा सूरज के कारण गर्म होती है और तेज़ी से ऊपर उठती है. जिसके कारण कम दबाव का क्षेत्र यानी लौ प्रेशर रीजन बनता है. इस प्रक्रिया में घने बादल बनते हैं और तेज़ हवाएं चलती हैं. इन्हें हरिकेन या साइक्लोन कहा जाता है.

साइक्लोन के नाम-
साइक्लोन्स को देशो के मौसम विभाग की ओर से नाम दिया जाता है. कई बार तो इनके बड़े ही अनोखे नाम होते हैं जैसे सुनामी, वरदा, हुदहुद, इरमा,फेलिन, लहर आदि. एक बार तो एक तूफ़ान का नाम कटरीना भी सुनने को मिला था. जानकारी के लिए बता दें कटरीना भारत की एक अभिनेत्री का भी नाम है. हमारी अगली न्यूज़ ने हम आपको बताएँगे कि किस देश से उठे चक्रवात को किस तरह के नाम मिले हैं.

You May Also Like

English News