हॉकी वर्ल्ड कप जीतने का भारतीय महिला टीम का सपना हुआ अधूरा

44 साल बाद भारतीय टीम का सेमीफाइनल में पहुंचने और महिला हॉकी वर्ल्ड कप जीतने का सपना अब सपना ही रह गया. आयरलैंड ने क्वॉर्टर फाइनल में भारत का यह सपना चकनाचूर कर दिया है.  आयरलैंड ने शूटआउट में भारत को 3-1 (0-0) से हराकर महिला वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया।  लंदन के ली वैली हॉकी एंड टेनिस सेंटर में गुरुवार देर रात दोनों टीमों के बीच खेला गया यह क्वार्टर फाइनल मैच तय समय में गोलरहित रहा और मैच शूटआउट में चला गया।हॉकी वर्ल्ड कप जीतने का भारतीय महिला टीम का सपना हुआ अधूरा

मैच के दौरान भारत के लिए एक मात्र गोल रीना खोखर ने किया. आयरलैंड की गोलकीपर आयेशा मैक्फारेन दीवार की तरह भारतीय खिलाड़ियों के सामने खड़ी रहीं. आयरलैंड के लिए अपटन रोइसन, मीके एलिसन और वाटकिंस चोले ने आखिरी तीन प्रयासों में गोल किए. अब आयरलैंड का सामना सेमीफाइनल में स्पेन से होगा.

भारतीय टीम इससे पहले 1974 में फ्रांस में हुए विश्व कप में सेमीफाइनल में पहुंची थी और टूर्नमेंट में चौथे स्थान पर रही थी. भारतीय टीम केवल एक बार ही विश्व कप अंतिम-4 में पहुंच सकी है।  इसके बाद भारत कभी भी अंतिम-4 में नहीं पहुंच पाया। बता दें कि भारत ने इटली को क्रॉसओवर मैच में 3-0 से हराकर क्वॉटर फाइनल में जगह बनाई थी.

You May Also Like

English News