हॉरर किलिंग के बाद छावनी बना खयाला, आरोपी न्यायिक हिरासत में

दिल्ली में हॉरर किलिंग की वारदात के बाद मृतक युवक की गर्लफ्रेंड के मां-पिता और मामा को अदालत में पेश किया गया. जहां से उन्हे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है. वहीं लड़की के नाबालिग भाई को जुवेनाइल होम भेजा गया है. बता दें कि गुरुवार को एक युवक की लड़की के परिजनों ने हत्या कर दी थी.हॉरर किलिंग के बाद छावनी बना खयाला, आरोपी न्यायिक हिरासत में

राजधानी दिल्ली का ख्याला इलाका छावनी बना हुआ है. पुलिस और ITBP के जवान हर छोटी-बड़ी हरकत पर नज़र रखे हुए हैं. मीडिया की लगातार आवाजाही के बीच भी हर तरफ अजीब सी खामोशी है. दरअसल, गुरूवार की रात सरेआम हुए कत्ल के बाद पूरे इलाके में सनसनी फैली गई थी. मामला क्योंकि दो अलग धर्म के युवक-युवती के बीच प्रेम प्रसंग का था, इसलिए हालात ज़्यादा नाजुक बने हुए हैं.

लड़की के परिजनों ने सबकी आंखों के सामने 23 साल के अंकित की जान सिर्फ इसलिए ले ली क्योंकि उन्हें शक था कि उनकी बेटी के साथ अंकित का अफेयर चल रहा है. अलग मज़हब का अंकित उन्हें मंजूर नहीं था. आपस की बहस ने खूनी रंग ले लिया और सबकी आंखों के सामने अंकित का गला रेत दिया गया.

अब मामले पर सियासत हावी होना चाहती है. इलाके के विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा ने तो यहां तक कहा कि सीएम केजरीवाल एक धर्म विशेष के मसीहा बने हुए हैं, इसलिए ऐसी वारदातों के लिए रास्ता खुल गया है. वहीं हत्या के बाद अगली सुबह बजरंग दल के कुछ लोग भी थाने पहुंचे थे. हालांकि गनीमत रही कि पुलिस से बातचीत के बाद वो वापस लौट गए.

सूत्रों से पता चला है कि अंकित कुछ वक्त पहले बजरंग दल से भी जुड़ा था. फिलहाल अंकित के परिवार वाले पुलिस की कार्रवाई से संतुष्ट हैं इसलिए राजनीति करने वालों को इस मुद्दे से मसाला नहीं मिल पा रहा है. वक्त रहते पुलिस ने भी सतर्कता दिखाते हुए इलाके पर पैनी नज़र रखी ताकि कोई घटना का फायदा उठाकर गड़बड़ी ना फैलाए.

वैसे अंकित के परिजन इसे मामूली झगड़े में गई जान का मामला मानने को तैयार नहीं हैं. पिता का आरोप है कि लड़की के घरवालों ने साज़िश के तहत उनके बेटे की हत्या की है. अंकित की मां का रो रोकर बुरा हाल है. जो भी उनसे हत्या की वारदात के बारे में पूछता है वो उसी से अपने बेटे को लौटा लाने की गुहार लगा रही हैं. उनके सामने ही अंकित का गला रेता गया था. 

इस पूरे बवाल के वक्त बड़ी तादाद में मोहल्लेवालों के मौजूद होने की बात भी सामने आई है. हैरत की बात है कि झगड़े और हत्या को रोकने के लिए कोई भी सामने नहीं आया और अब जब एक जान चली गई है, तब पुलिस और ITBP के जवानों के सामने इलाके में शांति बनाए रखने की चुनौती है.

ये था पूरा मामला

राजधानी दिल्ली के ख्याला इलाके में गुरुवार की देर शाम सरेआम एक युवक की चाकू मारकर हत्या किए जाने से हड़कंप मच गया. भीड़भाड़ वाले बाजार के बीचोबीच चार लोगों ने घेरकर एक युवक की चाकुओं से गोदकर हत्या कर दी. बाद में मामला प्रेम प्रसंग का निकला.

दरअसल, मृतक युवक का नाम अंकित था. उसकी उम्र करीब 23 साल थी. उसका एक मुस्लिम लड़की के साथ प्रेम प्रसंग था. लड़की के माता-पिता इस बात खासे परेशान थे. अब इस वारदात के बाद लड़की भी अपने घरवालों से अपनी जान को खतरा बता रही है. रघुवीर नगर के आरजी फ्लैट में रहने वाला अंकित और लड़की एक दूसरे से प्यार करते थे. जिसके चलते अंकित की गुरुवार को हत्या कर दी गई. हत्या का आरोप लड़की के घरवालों पर हैं.

You May Also Like

English News