फ़रिश्ते ने बचाई पांचवी मंजिल पर लटकते बच्चें की जान,

फ्रांस में फरिस्तों की तरह मौके पर पहुंच कर एक बच्चे की जान बचाने वाले युवक का वीडियों वायरल हो गया है. 22 साल के मामौदो एक अपार्टमेंट के पास से गुजर रहें थे तभी उन्होंने देखा कि अपार्टमेंट की बालकनी से एक बच्चा लटक रहा है. बच्चे को बचाने के लिए महज 30 सेकेंड में ही मामौदो बालकनी के सहारे अपार्टमेंट की चार मंजिलों तक चढ़ गए और बच्चे को गिरने से बचा लिया. इस घटना का वीडियो भी सोशल मीडिया पर खूब चर्चा बटोर रहा है. लोग मामौदो को फ्रांस का स्पाइडरमैन बुला रहे हैं. वीडियों में मामौदो वाकई असाधारण तरीके से फुर्ती के साथ एक बालकनी से दूसरी बालकनी पर चढ़ते हुए बच्चे को गिरने से बचा लेते हैं.मामौदो ने एक स्थानीय अखबार को बताया कि बच्चे को बालकनी से लटकता देखकर वे काफी घबरा गए और बच्चे को बचाने के लिए बिना कुछ सोचे दीवार पर चढ़ गए. उन्होंने बच्चे की जान बच जाने के लिए भगवान का धन्यवाद भी किया. मामौदो ने बताया कि बच्चे को बचाने के बाद वे शॉक से कांप रहे थे और थोड़ी देर बैठने के बाद वे सामान्य हुए. पेरिस के मेयर ने भी मामौदो को उनकी बहादुरी के लिए सराहा. फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रो ने भी मामौदा को विशेष धन्यवाद देने के लिए एलिसी पैलेस में इंवाइट किया है. बालकनी से लटक रहा चार साल का बच्चा फिलहाल ठीक है और पुलिस बच्चे के पिता से पूछताछ कर रही है कि आखिर बच्चा घर में अकेला क्यों था.  मामौदो के वीडियो को इंटरनेट पर खूब वाहवाही मिल रही है और लोग उनकी बहादुरी की काफी सराहना कर रहे हैं. मामौदा माली से कुछ दिनों पहले ही फ्रांस आए हैं और फ्रांस में बसना उनका सपना था. इस घटना के बाद फ्रांस में बसने के लिए सरकार ने भी उनकी हर संभव मदद का ऐलान किया है. इस सब के बीच उनके इस कारनामें ने मानवता का मौन सन्देश भी दिया है.

मामौदो ने एक स्थानीय अखबार को बताया कि बच्चे को बालकनी से लटकता देखकर वे काफी घबरा गए और बच्चे को बचाने के लिए बिना कुछ सोचे दीवार पर चढ़ गए. उन्होंने बच्चे की जान बच जाने के लिए भगवान का धन्यवाद भी किया. मामौदो ने बताया कि बच्चे को बचाने के बाद वे शॉक से कांप रहे थे और थोड़ी देर बैठने के बाद वे सामान्य हुए. पेरिस के मेयर ने भी मामौदो को उनकी बहादुरी के लिए सराहा. फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रो ने भी मामौदा को विशेष धन्यवाद देने के लिए एलिसी पैलेस में इंवाइट किया है. बालकनी से लटक रहा चार साल का बच्चा फिलहाल ठीक है और पुलिस बच्चे के पिता से पूछताछ कर रही है कि आखिर बच्चा घर में अकेला क्यों था.

मामौदो के वीडियो को इंटरनेट पर खूब वाहवाही मिल रही है और लोग उनकी बहादुरी की काफी सराहना कर रहे हैं. मामौदा माली से कुछ दिनों पहले ही फ्रांस आए हैं और फ्रांस में बसना उनका सपना था. इस घटना के बाद फ्रांस में बसने के लिए सरकार ने भी उनकी हर संभव मदद का ऐलान किया है. इस सब के बीच उनके इस कारनामें ने मानवता का मौन सन्देश भी दिया है. 

You May Also Like

English News