1 दिसंबर से लगवाएं HSRP, अब देनें होंगे दोगुने पैसे, ये रही नई रेट लिस्ट

 रजिस्टरिंग एंड लाइसेसिंग अथॉरिटी (आरएलए) एक दिसंबर से वाहनों पर हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट्स (एचएसआरपी) लगाएगा, पर रेट दोगुना होगा। प्लेट डेढ़ साल पहले रजिस्टर्ड 70 हजार वाहनों पर लगाई जाएगी। इसके लिए लोगों को दोबारा दोगुना पैसा खर्च करना पड़ रहा है। आरएलए की ओर से डेढ़ साल पहले से रेट फिक्स नहीं होने के कारण वाहनों पर हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट नहीं लगती थी। ट्रांसपोर्ट विभाग की बीस मीटिंग के बाद यह रेट दोगुना अधिक फाइनल हुए हैं।1 दिसंबर से लगवाएं HSRP, अब देनें होंगे दोगुने पैसे, ये रही नई रेट लिस्टअभी-अभी: RSS नेता गोसाईं मर्डर केस का हुआ बड़ा खुलासा, एनआईए ने पेश किए सबूत

अब दोपहिया वाहनों में हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट्स 160 रुपये की लगेगी। वहीं, चौपहिया वाहनों में यह प्लेट 365 रुपये में लगेंगी। वहीं, पहले दोपहिया वाहन 79 रुपये और चौपहिया वाहनों के लिए 365 रुपये देने होंगे। चार स्थानों पर लगाई जाएगी हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट आरएलए की ओर से हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट सेक्टर-17 आरएलए दफ्तर, एसटीए कार्यालय सेक्टर-18, इंडस्ट्रियल एरिया एसडीएम कार्यालय और सेक्टर-42 आरएलए केदफ्तर में यह प्लेट लगाई जाएगी।

आरएलए कैप्टन करनैल सिंह ने बताया कि एक दिसंबर से एचएसआरपी की नंबर प्लेट लगानी शुरू कर दी जाएगी। 70 हजार वाहनों में यह नंबर प्लेट लगाई जाएगी। इसके लिए कंपनी को डाटा दिया जाएगा, जिससे कि  वह नंबर प्लेट लगाने का काम शुरू कर सकें। इसके लिए पूरा डाटा आरएलए की ओर से इकट्ठा कर कंपनी को दिया जाएगा। वर्ष 2016 में सीएफएक्स बीजी नंबर के बाद हाई सिक्योरिटी प्लेट नहीं लगी है। अब इसे आसानी से लगाया जा सकेगा।

कैप्टन करनैल सिंह ने बताया कि यह टेंडर पांच साल के लिए किया गया है। इसी दर से पांच साल तक हाई सिक्योरिटी प्लेट लगाई जाएगी। हाई सिक्योरिटी लगाने वाली कंपनी ने एक नवंबर, 2017 को प्रशासन के साथ समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं।

नंबर बदलवाने में होगी परेशानी
आरएलए की ओर से अभी हाल में दिए गए 70 हजार नंबर छपने में समय लगेगा। इस कारण लोगों को एचएसआरपी लगवाने के लिए पर्ची कटवानी होगी। इसमें एक महीने से अधिक की वेटिंग होगी। गाड़ी का रजिस्ट्रेशन करवाले वाले सेक्टर-22 के सुनील शर्मा ने बताया कि पहली बार नंबर लगवाने में 100 रुपये खर्च करने पड़ते थे। अब दोबारा नंबर लगवाने के लिए लंबी वेटिंग का सामना करना पडे़गा। इसमें चेकिंग के दौरान पुलिस की ओर से परेशानी का सामना कई बार करना पड़ता है।

 एचएसआरपी नंबर लगवाने का काम एक दिसंबर से शुरू हो जाएगा। इसके लिए आरएलए ने डॉटा एकत्रित कर कंपनी को देने की तैयारी कर ली है। लोगों को किसी प्रकार की समस्या न हो इसके लिए आरएलए पूरी प्लानिंग कर रहा है।

You May Also Like

English News