1 सितंबर से शुरू हो रहा नया बैंक, जीरो बैलेंस पर खुलेगा सेविंग अकाउंट

लंबे इंतजार के बाद इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (IPPB) को 1 सितंबर को शुरू किया जाएगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक की 1 सितंबर को शुरुआत करेंगे. आईपीपीबी देश का तीसरा पेमेंट्स बैंक होगा, इससे पहले एयरटेल और पेटीएम को यह परमिट मिल चुका है. पेमेंट्स बैंक के खाते में कोई भी व्यक्ति या छोटा बिजनेसमैन 1 लाख रुपये तक की राशि जमा कर सकता है.1 सितंबर से शुरू हो रहा नया बैंक, जीरो बैलेंस पर खुलेगा सेविंग अकाउंट

पहले 21 अगस्त को होनी थी शुरुआत
पोस्ट पेमेंट्स बैंक की शुरुआत करने की तिथि को हाल ही में दोबारा से तय किया गया. पहले इसकी शुरुआत 21 अगस्त को होनी थी लेकिन 16 अगस्त को पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की मौत के बाद आईपीपीबी की लॉन्चिंग की तिथि को बदल दिया गया था. इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक की शुरुआत होने के साथ ही इसके एप के भी उसी दिन लॉन्च होने की उम्मीद है. इसके एप के जरिए ग्राहक करीब 100 कंपनियों की सेवाओं का भुगतान आसानी से कर सकेंगे.

एक ही प्लेटफॉर्म पर मिलेंगी 100 सुविधाएं
इससे आप एक ही प्लेटफॉर्म पर फोन रीचार्ज, बिजली का बिल, डीटीएच सर्विस और कॉलेज की शुल्क आदि का भुगतान कर सकेंगे. पिछले दिनों इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक के सीईओ सुरेश सेठी ने बताया था कि आईपीपीबी की शुरुआत देशभर में 650 शाखाओं के साथ होगी. इसके अलावा विभिन्न डाकघरों में इसके 3,250 एक्‍सेस प्वाइंट होंगे. साथ ही शहरी व ग्रामीण इलाकों में करीब 11 हजार पोस्‍टमैन लोगों को घर-घर जाकर बैंकिंग सर्विस मुहैया कराएंगे

.पोस्टल पेमेंट्स बैंक के बारे में 5 बातें

– आईपीपीबी की हर जिले में कम से कम एक ब्रांच खोली जाएगी. पेमेंट्स बैंक की शुरुआत करने का लक्ष्य ग्रामीण इलाकों में वित्तीय सेवाएं मुहैया कराना है. ग्रामीण इलाकों में वित्तीय सेवाएं मुहैया कराने के लिए सभी 1.55 लाख डाकघरों को इनसे जोड़ा जाएगा. इससे देश में सबसे बड़ा बैंकिंग नेटवर्क तैयार होगा.
– इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक से 17 करोड़ पोस्टल सेविंग बैंक अकाउंट को लिंक किया जाएगा. आईपीपीबी के जरिए ग्रामीण इलाकों में लोग डिजीटल बैंकिंग और फाइनेंशियल सर्विसेज का फायदा उठा सकेंगे. इसके माध्यम से किसी भी बैंक खाते में मनी ट्रांसफर भी किया जा सकेगा.
– पोस्टल पेमेंट बैंक के जरिए ग्राहक RTGS, NEFT, IMPS ट्रांजेक्‍शन जैसी सुविधाओं का भी लाभ ले सकेंगे. यानी आप अपने खाते से किसी भी बैंक में RTGS, NEFT, IMPS कर सकते हैं और किसी भी अकाउंट से इनके जरिए राशि प्राप्त कर सकेंगे. थर्ड पार्टी टाइअप के माध्यम से आईपीपीबी के खाताधारक किसी भी प्रकार की वित्तीय सुविधाओं का इस्तेमाल कर सकते हैं.
– सरकार की तरफ से पेमेंट्स बैंक का इस्तेमाल नरेगा का वेतन, सब्सिडी, पेंशन आदि के वितरण में किया जाएगा.
– आईपीपीबी एप के भी 1 सितंबर को लॉन्च होने की उम्मीद है. इस एप के जरिए ग्राहक 100 कंपनियों की सेवाओं का भुगतान आसानी से कर सकेंगे

You May Also Like

English News