Suicide: भाभी के गम में देवर ने फांसी लगाकर दी जान!

लखनऊ: भाभी के घर से भाग जाने से क्षुब्ध एक युवक ने फांसी लगाकर अपनी जान दे दी। यह घटना शहर के ठाकुरगंज इलाके में हुई।


सीतापुर जनपद निवासी अंगनू अपने भाई 32 वर्षीय संतोष और पत्नी गीता के साथ ठाकुरगंज के अहमदगंज में सुशील सिंह के मकान में किराये पर रहता था। बताया जाता है कि 16 जनवरी को अंगनू की पत्नी गीता घर से भाग गयी। इस बात को लेकर संतोष क्षुब्ध था।

इसके पीछे वजह यह भी कि गीता और संतोष के बीच काफी अच्छे संबंध थे। बुधवार की शाम संतोष घर से चुपचाप चला गया। इसके बाद वह वापस घर नहीं लौटा।

देर रात उसने मल्लाही टोला स्थित बम्बा घर के पास लगे पेड़ में दुपट्टे के सहारे लटक कर अपनी जान दे दी। सुबह जब लोगों का गुजर उधर से हुआ तो लोगों की नज़र संतोष के शव पर पड़ी। लोगों ने इस बात की खबर उसके भाई अंगनू और पुलिस कंट्रोल रूम को दी।

सूचना मिलते ही मौके पर ठाकुरगंज पुलिस भी मौके पर पहुंच गयी। पुलिस ने छानबीन के बाद संतोष के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। संतोष इलाके में ही स्थित एक मोमबत्ती के कारखाने में काम करता था।

पुलिस को छानबीन के दौरान कारखाने के ही कुछ लोगों से इस बात का पता चला कि संतोष भाभी के चले जाने से परेशान था। उसने कारखाने में काम करने वाले कुछ लोगों से वापस लौटकर न आने की बात भी कही थी।

You May Also Like

English News