Murder: दर्दनाक एक ही परिवार के चार लोगों की हत्या, दो बच्चों ने बचाई अपनी जान!

बांदा : उत्तर प्रदेश एक के बाद एक अपराधिक घटनाएं होती जा रही हैं। अब यूपी के के बांदा जिले में एक ही परिवार के चार लोगों की कुल्हाड़ी से काटकर हत्या कर दी गई। घटना मंगलवार देर रात की है। मरने वालों में पति, पत्नी और उनके दो बेटे शामिल हैं। मृतक के दो बच्चे जिंदा बच गए हैं जो हत्यारों से बचकर छिप गए थे।


बांदा जनपद के बिसंडा थाने के गांव अमिलिहा में 46 वर्षीय महावीर यादव कताई मिल के सामने छोटापुरवा मोहल्ले में रहता था। उसने छोटापुरवा मोहल्ले में चट्टा खोल रखा था। वह दूध का व्यापार करते थे। पास में ही महादेव के दो अन्य भाईयों के भी मकान हैं।

बताया जा रहा है मंगलवार की देर रात कुछ बदमाश महावीर के घर में दाखिल हुए। उन्होंने पहले महादेव पर कुल्हाड़ी से हमला किया। महादेव को बचाने दौड़ी उनकी पत्नी 42 वर्षीय चुन्नी को कुल्हाड़ी से काट दिया। माता-पिता को लहूलुहान देखकर शोर मचाने वाले दो बेटों 10 साल के पवन और 8 साल के राजकुमार की भी बेरहमी से हत्या कर दी।

परिवार के चार लोगों की हुई निर्मम हत्या में महावीर और चुन्नी के दो बच्चे हत्यारों के चुंगल से बच गए। बच्चों ने बताया कि जब उन लोगों ने हत्यारों क देखा तो डरकर छिप गए। बेटी पूजा 7 ने बताया कि वह भैंस के पीछे जाकर छिप गई। वहीं उसके भाई राजा 15 ने बताया कि वह रजाई में छिप गया और उसने मुंह से कोई आवाज नहीं निकाली।

महावीर की भतीजे मुन्नीलाल ने बताया कि दूध का काम होने के नाते सुबह 4 बजे घर के बाहर चहल-पहल होने लगती थी। बुधवार की सुबह जब 5 बजे तक कोई बाहर नहीं निकला तब वह घर के अंदर चाचा को बुलाने गया। अंदर जाते ही उसने खून से लथपथ लाशें देखीं तो उसकी चीख निकल पड़ी।

वह चिल्लाते हुए बाहर भागा। आस पास लोगों ने उसकी चीख सुनी तो मौके पर भीड़ जमा हो गई। पुलिस को घटना की सूचना दी गई। पुलिस ने अंदर जाकर जांच की दो जिंदा बचे बच्चों को बाहर निकाला।

बच्चे इतने डरे सहमे थे कि काफी समय बाद वे सामान्य हो पाए। बच्चों से पुलिसवालों ने पूछताछ की तो उन्होंने एक रिश्तेदार का नाम बताया। पुलिस ने बताया कि बच्चों की सुरक्षा के लिए उन्हें सुरक्षित स्थान पर छिपा दिया है। बच्चों ने जिस पर हत्या का आरोप लगाया है पुलिस उसे तलाश रही है वह अभी फरार है।

You May Also Like

English News