11 अगस्त को प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे इमरान खान

आम चुनाव में खंडित जनादेश मिलने के बाद पाकिस्तान में नई सरकार के गठन के लिए सियासी जोड़-तोड़ जोरों पर है। इस बीच संसद में सबसे पड़ी पार्टी बनकर उभरी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के अध्यक्ष इमरान खान ने कहा है कि वे 11 अगस्त को प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे। रेडियो पाकिस्तान ने खुद इमरान के हवाले से कहा कि वे 11 अगस्त को पदभार संभालेंगे।आम चुनाव में खंडित जनादेश मिलने के बाद पाकिस्तान में नई सरकार के गठन के लिए सियासी जोड़-तोड़ जोरों पर है। इस बीच संसद में सबसे पड़ी पार्टी बनकर उभरी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के अध्यक्ष इमरान खान ने कहा है कि वे 11 अगस्त को प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे। रेडियो पाकिस्तान ने खुद इमरान के हवाले से कहा कि वे 11 अगस्त को पदभार संभालेंगे।  सोमवार को खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के नवनिर्वाचित पार्टी विधायकों को संबोधित करते हुए पीटीआइ नेता ने कहा कि मैंने राज्य के अगले मुख्यमंत्री का फैसला कर लिया है। अगले 48 घंटों के अंदर उनके नाम का एलान कर दिया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि सिंध प्रांत की गरीबी खत्म करना उनकी सरकार की प्राथमिकताओं में शामिल होगा।  अभी यह स्पष्ट नहीं है कि इमरान अकेले शपथ लेंगे या उनके साथ उनका मंत्रिमंडल भी शपथ लेगा। इससे पहले रविवार को पीटीआइ ने कहा था कि 14 अगस्त से पहले इमरान प्रधानमंत्री पद की शपथ ले लेंगे। पार्टी प्रवक्ता नईमुल हक ने कहा था कि संसद में बहुमत हासिल करने के लिए वह छोटी पार्टियों और निर्दलीय सांसदों से संपर्क कर रही है। उल्लेखनीय है कि नेशनल असेंबली के चुनाव में पीटीआइ 116 सीटें झटकने में कामयाब रही।   नशे में था पायलट, 10 घंटे बाद दुबई जा सके यात्री यह भी पढ़ें  पीएमएल-एन और पीपीपी ने मिलाया हाथ   नवाज शरीफ पर चल रहे भ्रष्टाचार मामलों की सुनवाई दो दिन टली यह भी पढ़ें  नेशनल असेंबली में दूसरे नंबर की पार्टी पीएमएल-एन और तीसरे नंबर पर रही पीपीपी ने इमरान खान के प्रधानमंत्री बनने की स्थिति में एक साथ आने का फैसला किया है। संसद में पीएमएल-एन के 64 और पीपीपी के 43 सदस्य हैं। दोनों पार्टियों ने कहा है कि इमरान सरकार के खिलाफ संयुक्त रणनीति अपनाई जाएगी। इस बीच, पीएमएल-एन ने संसदीय चुनाव में कथित धांधली की जांच कराने की मांग की है। पार्टी के नेता ख्वाजा आसिफ ने लाहौर में केंद्रीय कार्यकारिणी की बैठक के बाद पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि वे साक्ष्यों के साथ चुनावी धांधली पर श्वेतपत्र जारी करेंगे।

सोमवार को खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के नवनिर्वाचित पार्टी विधायकों को संबोधित करते हुए पीटीआइ नेता ने कहा कि मैंने राज्य के अगले मुख्यमंत्री का फैसला कर लिया है। अगले 48 घंटों के अंदर उनके नाम का एलान कर दिया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि सिंध प्रांत की गरीबी खत्म करना उनकी सरकार की प्राथमिकताओं में शामिल होगा।

अभी यह स्पष्ट नहीं है कि इमरान अकेले शपथ लेंगे या उनके साथ उनका मंत्रिमंडल भी शपथ लेगा। इससे पहले रविवार को पीटीआइ ने कहा था कि 14 अगस्त से पहले इमरान प्रधानमंत्री पद की शपथ ले लेंगे। पार्टी प्रवक्ता नईमुल हक ने कहा था कि संसद में बहुमत हासिल करने के लिए वह छोटी पार्टियों और निर्दलीय सांसदों से संपर्क कर रही है। उल्लेखनीय है कि नेशनल असेंबली के चुनाव में पीटीआइ 116 सीटें झटकने में कामयाब रही।

पीएमएल-एन और पीपीपी ने मिलाया हाथ

नेशनल असेंबली में दूसरे नंबर की पार्टी पीएमएल-एन और तीसरे नंबर पर रही पीपीपी ने इमरान खान के प्रधानमंत्री बनने की स्थिति में एक साथ आने का फैसला किया है। संसद में पीएमएल-एन के 64 और पीपीपी के 43 सदस्य हैं। दोनों पार्टियों ने कहा है कि इमरान सरकार के खिलाफ संयुक्त रणनीति अपनाई जाएगी। इस बीच, पीएमएल-एन ने संसदीय चुनाव में कथित धांधली की जांच कराने की मांग की है। पार्टी के नेता ख्वाजा आसिफ ने लाहौर में केंद्रीय कार्यकारिणी की बैठक के बाद पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि वे साक्ष्यों के साथ चुनावी धांधली पर श्वेतपत्र जारी करेंगे।

You May Also Like

English News