Bollywood: चौकीदार से लेकर एक्टर तक इस एक्टर का सफर जानिए, आज मना रहे हैं 45 वां बर्थडे!

मुम्बई: जीवन में कड़ा संघर्ष करने के बाद बॉलीवुड एक्टर नवाजुद्दीन सिद्दीकी ने ऐसा मुकाम हासिल कर लिया है जहां उनकी गिनती बेहतरीन एक्टर के रूप में होती है। नवाजदुद्दीन का जन्म 19 मई 1974 को मुजफ्फरनगर के छोटे से गांव बुढ़ाना में हुआ था। उनके जन्मदिन पर आइए जानते हैं उनसे जुड़ी कुछ खास बातें।


नवाज के परिवार में आठ भाई-बहन थे। पिता किसान थे इसमें घर का खर्च पूरा नहीं पड़ पाता था इसलिए नवाज ने छोटी उम्र में ही नौकरी करनी शुरू कर दी थी। नवाज ने गुरुकुल कांगड़ी यूनिवर्सिटी से साइंस में ग्रेजुएशन किया लेकिन छोटे से कस्बे में कुछ बड़ा करने के बारे में सोच भी नहीं सकते थे इसलिए वो दिल्ली आ गए। खर्चा.पानी चलाने के लिए चौकीदारी की नौकरी कर ली। नवाज कुछ बड़ा करना चाहते थे कुछ कर दिखाने का जज्बा उनमें उबाल मार रहा था इसलिए उन्होंने नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा में एडमिशन ले लिया।

उन दिनों नवाज के पास रहने को घर नहीं था इसलिए उन्होंने अपने सीनियर से कहा कि वो उन्हें अपने साथ रख लें तो नवाज के कुछ सीनियर ने उन्हें इस शर्त पर अपने अपार्टमेंट में रहने की इजाजत दी कि वो उन्हें खाना बनाकर खिलाएंगे। नवाज तैयार हो गए और अपने सीनियर के साथ रहने लगे। 1996 में वहां से ग्रेजुएट हो गए।इसके बाद नवाज ने साक्षी थिएटर ज्वॉइन कर लिया।

यहां उन्होंने मनोज बाजपेयी ओर सौरभ शुक्ला जैसे कलाकारों के साथ काम किया। ये उनकी सफलता की नहीं बल्कि संघर्ष की शुरुआत थी। हीरो बनने की चाह में नवाज मुंबई पहुंचे। यहां हर ऑडिशन में रिजेक्ट कर दिए जाते थे। नवाज के जो दोस्त उनके साथ मुंबई गए थे वो थक.हार कर घर लौट गए लेकिन नवाज डटे रहे। नवाज की पहली फिल्म सरफरोश थी। इस फिल्म में नवाज ने मुखबिर का रोल निभाया था।

फिल्म शूल में नवाज को एक वेटर का रोल दिया गया। इस बीच नवाजुद्दीन जंगलश्, मुन्नाभाई एबीबीएस और कुछ फिल्म में छोटे-मोटे रोल किए। उनकी किस्मत का सितारा तब चमका जब साल 2010 में पीपली लाइव रिलीज हुई। इस फिल्म से नवाज फिल्ममेकर्स की नजरों में आ गए। इसके बाद तो नवाज के पास फिल्मों की झड़ी लग गई।

गैंग्स ऑफ वासेपुर में फैजल के किरदार से नवाज ने सबका दिल जीत लिया। आज नवाज जाना-माना नाम बन गए हैं। नवाज भले ही बड़े स्टार बन गए हों लेकिन लाइफ स्टाइल बिलकुल साधारण हैं। फिल्मी दुनिया से इतर नवाज की पर्सनल लाइफ बहुत ही दिलचस्प है। खासकर उनकी लव स्टोरी। जब नवाज 17 साल के थे। तब उन्हें पड़ोस की एक लड़की से इश्क हो गया। नवाज रोज उसका पीछा करते थे।

एक दिन तो उन्होंने हिम्मत जुटाकर उसका हाथ पकड़ लिया। वो किसी घर में टीवी देखने जा रही थी। नवाज ने हाथ पकड़कर कहा कि एक दिन मैं भी टीवी पर आऊंगा, तब मुझे देखना। ये बातें नवाज ने एक इंटरव्यू के दौरान बताई थीं। एक किस्सा शेयर करते हुए हुए नवाज ने बताया थाए श्मिस लवली की शूट के दौरान मुझे को.स्टार निहारिका को लिप किस करना पड़ा।

मेरे लिए वह सीन काफी मुश्किल था। मैंने कभी अपनी पत्नी को भी ऐसे किस नहीं किया था।श् बता दें कि नवाजुद्दीन की शादी काफी कम उम्र में हुई थी। तब वो फिल्म इंडस्ट्री में स्ट्रगल कर रहे थे। उनकी पत्नी अंजलि सिद्दिकी उन्हीं के गांव की रहने वाली हैं। नवाजुद्दीन एक बेटी और बेटे के पिता हैं। अलग तरह के किरदार से लोगों के दिलों में धाक जमाने वाले एक्टर नवाजुद्दीन सिद्दीकी आज अपना 45वां जन्मदिन मना रहे हैं।

नवाज के गांव में कोई भी थियेटर नहीं था। फिल्म देखने के लिए उन्हें 45 किलोमीटर दूर जाना पड़ता था। बॉलीवुड में आने से पहले नवाजुद्दीन ने महज 5 फिल्में ही देखी थीं। इसके साथ ही वह रोजाना एक्टिंग की रिहर्सल शीशे के सामने खड़े होकर करते थे। नवाजुद्दीन पहली बार पेप्सी के कैम्पेन विज्ञापन सचिन आला रे में नजर आए थे। जिसके लिए उन्हें 500 रुपए दिए गए थे। बॉलीवुड में अपनी खास पहचान बनाने के लिए नवाजुद्दीन को करीब 12 साल का संघर्ष करना पड़ा।

You May Also Like

English News