ये हैं बॉलीवुड की ऐसी 13 फ़िल्में जो आपको हमेशा अकेले ही देखनी चाहिए

मनोरंजन के लिए हम बहुत सारे काम करते हैं. घूमने जाना, दोस्तों के साथ मस्ती, वीकेंड पर फैमली के साथ समय बिताना और पार्टी-शार्टी करना. फ़िल्में देखने का शौक किसे नहीं होता? बहुत से लोग परिवार के साथ देखते हैं और कुछ यारों दोस्तों के साथ. लेकिन कुछ फ़िल्में ऐसी भी होती हैं जो आपको अकेले ही देखनी चाहिए या फ़िर इन्हें छुप-छुप कर देखने का ही मज़ा आता है. क्योंकि ये फ़िल्में किसी के साथ बैठ कर देखने लायक हैं ही नहीं.

1.जिस्म

बिपाशा बासू और जान अब्राहम ने जो दिखाया उसे देखने के बाद तो अच्छे-अच्छे दीवाने हो गये. ये फ़िल्म परिवार के साथ बैठ कर देखने लायक तो नहीं है बाकी आप अकेल लुत्फ़ उठा सकते हैं.

2.कामासूत्रा

फ़िल्म के नाम से ही समझ आ जाता है कि ये बनी ही तन्हा प्राणियों के लिए है. ऐसा नहीं है कि इस फ़िल्म में कोई कॉन्सेप्ट नहीं है Sex के इलावा भी आपको अकेलेपन की बहुत सारी बातें जानने को मिलेंगी.

 

3.रागनी MMS

हॉरर फ़िल्म है पर पूरी फ़िल्म में भूत कहीं दिखता नहीं, अपने निशान छोड़ता रहता है. इस फ़िल्म को अकेले देखने में ही मज़ा आयेगा.

4.मस्तराम

हालही में आई ये फ़िल्म एक पोर्नोगाफ़्रिक राइटर की कहानी है. इसको भाई अकेले ही देखना नहीं तो रायता फैल जायेगा. बाकी फ़िल्म एक बार देखने के बाद दुबारा देखने का मन न करे तो कहना!

 

5.जिस्म-2

इस फ़िल्म में तो सन्नी लिओन हैं. वैसे इसे एक एडल्ट मूवी का सर्टिफिकेट भी मिला है. लव, ड्रामा और फाइट का संगम है ये फ़िल्म. कहानी मस्त है.

 

6.Alone

बिपाशा बासु और करण की ये फ़िल्म एक हॉरर मूवी है. वैसे इसे अकेले देखना बहादुरी वाला काम होगा जनाब. फ़िल्म रोमांस से होती हुई जब डर की ओर जायेगी तो ज़रा बच कर रहना क्योंकि फटी की फटी रह जायेगी…आंखे.

7.नशा

पूनम पांडे की ये फ़िल्म आपको अकेले ही देखनी चाहिए. बाकी देखने के बाद आप ख़ुद समझ जायेंगे कि क्यूं.

8.Grand Masti

इस फ़िल्म के तो डॉयलाग भी अकेले आपके कान में ही पड़ने चाहिए. देखने पर हंसी से आप पागल हो जायेंगे. तीन दोस्तों को किन-किन चुतियापों का सामना करना पड़ता है. ये जानने के लिए देखना ज़रूरी है.

9.आस्था

ओम पुरी और रेखा की ये फ़िल्म अपने जमाने में खूब चर्चा का विषय रही थी. आप भी देखने के बाद अपने दोस्तों से डिस्कस करना नहीं भूलेंगे.

10.Murder

इमरान हाशमी और मल्लिका शरावत के जलवे ही अलग हैं. इस फ़िल्म में सब है. फुल-टू-मस्ती. ये फ़िल्म देखते वक़्त आप ख़ुद को अकेला महसूस नहीं करेंगे.

11.B.A Pass

एक शादीशुदा औरत और एक स्कूल-कॉलेज़ में पढ़ने वाले बच्चे के बीच बने संबंध को देखने में आपको अजीब लगेगा लेकिन कहानी को देखिए फ़िर बात करते हैं.

12.Hate Story-2

एक लड़की अपने प्रेमी की मौत का बदला किस हद तक जा कर लेती है ये देखने लायक है. इस फ़िल्म को देखने के बाद आपको सुरवीन चावला की एक्टिंग से प्यार सा हो जायेगा.

13.Tarzan

जंगल में भटकता एक वनमानुष और शहर की लड़की को उससे मोहब्बत हो जाना. उसके बाद क्या-क्या होता आप ख़ुद ही देखिए इसे.

अब देख कर बताइये कैसी लगी अकेले में ये फ़िल्में.

 

You May Also Like

English News