144 घंटे का हनीप्रीत का रिमांड, जानिए कौन से राज उगले और क्या कुछ छिपा गई?

हनीप्रीत टेढ़ी खीर है, 144 घंटे का रिमांड, सख्ती भी की गई, लेकिन पुलिस उससे सच नहीं उगलवा पाई। उसने कई राज उगले, लेकिन उससे ज्यादा रहस्य वो छिपा रही है। 144 घंटे का हनीप्रीत का रिमांड, जानिए कौन से राज उगले और क्या कुछ छिपा गई?

14 दिसंबर से 14 जनवरी के बीच नहीं होती हिंदू शादियां, तब हों चुनाव: BJP का सुझाव

कहें तो हनीप्रीत पुलिस को चकमा दे रही है। सवाल के जवाब में पहले कुछ कहती है, फिर उसे घुमाकर दूसरी बात कह देती है। आदित्य इंसां और पवन इंसां के ​ठिकाने बताए, लेकिन वे नहीं मिले। पुलिस ने सोमवार को हनीप्रीत और डेरा प्रमुख के पीए राकेश कुमार को आमने सामने बैठाकर कई तीखे सवाल पूछे, लेकिन नतीजा शून्य रहा। एसआईटी भी हनीप्रीत की तरह कुछ भी बोलने से कतरा रही है, ताकि जांच पर कोई असर न पड़े।

हालांकि पुलिस कमिश्नर का कहना है कि पूछताछ के दौरान मिलने वाली अहम जानकारियां जल्द ही मीडिया से साझा किए जाएंगे। वहीं सूत्रों का कहना है कि डेरा हिंसा मामले में पंचकूला के सेक्टर-23 पुलिस स्टेशन में रविवार देर रात तक एसआईटी ने हनीप्रीत से करीब पांच घंटे तक पूछताछ की। इस बीच हनीप्रीत ने सिर दर्द और बेचैनी की शिकायत की। उसके बाद एसआईटी ने पूछताछ बंद की, लेकिन जब पुलिस ने मेडिकल कराया तो सब कुछ नार्मल आया। 

गौरतलब है कि 25 अगस्त को पंचकूला में हुई हिंसा की साजिश मामले में पुलिस ने हनीप्रीत को 3 अक्तूबर को जीरकपुर पटियाला रोड से गिरफ्तार किया और उसके खिलाफ मामला दर्ज कर कोर्ट में पेश किया। वहां से 6 दिन का रिमांड मिला। रिमांड के दौरान उसे बठिंडा, गुरुदासपुर सहित कुछ और जगहों पर ले जाया गया, लेकिन पुलिस को कोई खास जानकारी नहीं मिली। लेकिन एक सीडी पुलिस के हाथ लगी है, जिसमें 700 करोड़ की प्रॉपर्टी के राज दफन हैं। 

हालांकि हनीप्रीत से हुई पूछताछ में पंचकूला में दंगा भड़काने के लिए सवा करोड़ रुपये दिए जाने की बात का खुलासा हुआ है। मामले में गिरफ्तार एक आरोपी राकेश के नाम पर अप्रैल माह में 50 लाख रुपये कैश ले जाने की बात भी सामने आई। सूत्रों के मुताबिक पंचकूला हिंसा के लिए भी रकम उसी ने यहां तक पहुंचाई और पहले भी वह कैश लेन देन का काम करता रहा है। पूछताछ के दौरान हनीप्रीत के सा​थ पकड़ी गई सुखदीप कौर ने कई राज खोले हैं। 

6 दिनों की रिमांड के दौरान पुलिस ने हनीप्रीत से 40 से अधिक सवाल पूछे, जिनमें से ज्यादातर उसने जवाब नहीं दिया। पंचकूला आईजी एएस चावला ने भी कहा कि वह जांच में सहयोग नहीं कर रही है। पुलिस ने उस पर गुमराह करने, झूठ बोलने और गलत जानकारी देने के आरोप लगाए। पुलिस ने हनीप्रीत के लिए सवालों की बहुत लंबी फेहरिस्त तैयार की है। ड्राइवर राकेश कुमार अरोड़ा के सामने भी क्रॉस एग्जामिनेशन किया जा चुका है, पर सफलता नहीं मिली। 

वहीं रिमांड के दौरान हनीप्रीत ने अपनी सीक्रेट डायरी की बात की, जिसमें डेरा सच्चा सौदा से जुड़े लेनदेन, सीक्रेट बैठकों और दूसरे गोपनीय राज लिखे गए हैं, पर यह डायरी कहां है, नहीं बताया। पुलिस को वह डायरी चाहिए। हनीप्रीत ने कबूल किया है कि उसने 38 दिनों में लोगों से बातचीत करने के लिए व्हाट्सऐप यूज किया और कई कॉल भी किए, पर फोन कहां हैं, ये नहीं बताया। वह कहती है फोन गुम हो गया, जबकि सुखदीप ने बताया कि फोन तरनतारन में छिपाया है। 

हनीप्रीत ने माना कि वह पंचकूला हिंसा के बाद फरार चल रहे डेरा के प्रवक्ता डॉक्टर आदित्य इंसां और पवन इंसां के संपर्क में थी, लेकिन यह नहीं बताया कि उसने उनके साथ कितनी बार और क्या बात की। क्या उन को छिपाने में मदद की? हनीप्रीत ने स्वीकारा है कि 38 दिनों में उसने कई सिम इस्तेमाल किए। वहीं सुखदीप कौर ने पुलिस को बताया है कि हनीप्रीत सिम का इस्तेमाल करके उसे या तो नष्ट कर देती थी या फिर फेंक देती थी।

इन सवालों के जवाब हनीप्रीत से चाहिएं
आदित्य और पवन इंसां कहां छिपे हैं? फरार होने के दौरान किन-किन लोगों से हनीप्रीत ने मदद ली। व्हाट्सएप कॉलिंग के जरिये किन-किन लोगों से बात हुई। आखिर डेरे की गुफा का क्या राज है? गुरमीत राम रहीम का पंचकूला में दंगे करवाने में क्या रोल है? गुरमीत को भगाने का राज क्या है, अगर ऐसी योजना थी तो इसमें कौन-कौन लोग शामिल थे? पंचकूला में हिंसा और दंगा कराने वालों में किन किन लोगों का अहम रोल है? 

अभी तक अनसुलझे हैं तीस सवाल
पिछले 38 दिनों तक कहां छिपी थी? 25 अगस्त को रोहतक की सुनारिया जेल से लौटने के बाद वो कहां गई? 25 अगस्त की रात से लेकर 3 अक्तूबर तक कहां-कहां गई? 25 अगस्त के बाद किस-किस ने उसकी मदद की थी? डेरा समर्थकों की हिंसा में उसकी क्या भूमिका थी? क्या राम रहीम को जेल पहुंचने से पहले ही भगाने की योजना थी? राम रहीम को भगाने के लिए क्या योजना बनाई गई थी? 

25 अगस्त को इतने हजारों डेरा समर्थक क्यों जुटे थे? डेरा समर्थकों को किसने और किसलिए बुलाया था? अब तक फरार चल रहे आदित्य इंसां और पवन इंसा के बारे में क्या जानकारी है? क्या हनीप्रीत 25 अगस्त से ही आदित्य, पवन के संपर्क में थी? इन सभी लोगों से क्या व्हाट्सएप कॉलिंग के जरिए बात होती थी? क्या इस बीच सिंपल कॉलिंग का इस्तेमाल नहीं किया? क्या हनीप्रीत के पास इंटरनेशनल नंबर थे? 

व्हाट्सएप कॉलिंग के जरिए तुम्हारी किन लोगों से बात हुई, मोबाइल फोन कहां है? पवन इंसा और आदित्य इंसा से आखिरी बार तुम्हारी कब बात हुई थी? पंचकूला में दंगा करवाने में डेरे की 45 मेंबरों की कमेटी के लोगों का क्या रोल था? गुरमीत राम रहीम का पंचकूला में दंगे करवाने में क्या रोल है? डेरा में कुर्बानी गैंग का क्या राज है? डेरा प्रमुख की ओर से बनाई गई फिल्मों में लगे पैसों का स्रोत क्या है? डेरे में इतनी प्रॉपर्टी कहां से आई? डेरे की गुफा का क्या राज है? 

कनाडा और दुबई में डेरा की कितनी संपत्ति है ? फरारी के दौरान सबसे ज्यादा दिन तुम कहां रही? विदेश में किन किन लोगों से बात की? आपका पुराना मोबाइल फोन और सिम कहां है? पेशी के दौरान गाड़ियों में हथियार और अन्य सामान के बारे में क्या जानकारी थी? डेरा प्रमुख के काफिले में कितने राजनेता और एनआरआई आए थे? डेरे की एक गाड़ी जलाने का क्या राज है? इतने दिनों तक खर्च कैसे चला?

 

 

You May Also Like

English News