लेसाकर्मी ने जहर खाकर दी जान मौके से पुलिस को मिला सुसाइड नोट भी

लखनऊ ,26 दिसम्बर पारा इलाके में रहने वाले लेसा कर्मचारी ने जहरीला पदार्थ खाकर अपनी जान दे दी। पुलिस को उसके हाथ का लिखा सुसाइड नोट मिला है। वहीं बंथरा इलाके में रहने वाले एक पंचर दुकानदार ने अपने घर के चैनल में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। उसने आत्महत्या क्यों की फिलहाल इस बात का पता नहीं चल सका है।
लेसाकर्मी ने जहर खाकर दी जान मौके से पुलिस को मिला सुसाइड नोट भी
इंस्पेक्टर पारा ने बताया कि सूर्यनगर इलाके में लेसा विभाग में तैनात एसएसओ 59 वर्षीय रामकुमार सोनी अपने परिवार के साथ रहते थे। बताया जाता है कि सोमवार को उन्होंने खुद को घर के बेसमेंट में बंद कर लिया और जहरीला पदार्थ खा लिया। जब वह काफी देर तक बेसमेंट से बाहर नहीं आये तो परिवार वालों ने उनको आवाज लगायी। जवाब न मिलने पर परिवार वालों ने सूचना पुलिस कंट्रोल रूम को दी। सूचना पर पहुंची पारा पुलिस ने किसी तरह बेसमेंट का दरवाजा तोड़ा और अंदर पहुंची। अंदर रामकुमार का शव पड़ा था और उन्होंने कोई जहरीला पदार्थ खाकर आत्महत्या की थी। पुलिस को मौके से सुसाइड नोट भी मिला। नोट में  रामकुमार ने आत्महत्या के पीछे खुद को जिम्मेदार बताया था। पुलिस ने छानबीन के लिए मौके पर फारेंसिक की टीम को भी बुला लिया
 फारेंसिक की टीम ने बेसमेंट में पड़ी उल्टी के नमूने अपने कब्जे में लेकर जांच के लिए भेज दिया है। अभी तक इस बात का पता नहीं चल सका है कि रामकुमार ने आत्महत्या क्यों की थी। इंस्पेक्टर पारा ने बताया कि अभी कुछ दिन पहले रामकुमार को हार्टअटैक भी पड़ा था। आत्महत्या के पीछे बीमारी या फिर पारिवारिक कारण हो सकता है। इसके अलावा बंथरा कस्बे में 55 वर्षीय नंदलाल एक कमरे के मकान में रहता था और साइकिल पंचर बनाने का काम करता था। सोमवार की सुबह लोगों ने नंदलाल का शव उसके घर के चैनल में चादर के सहारे लटकता देखा। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने छानबीन के बाद नंदलाल के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। अभी तक इस बात का पता नहीं चल सका है कि नंदलाल ने आत्महत्या क्यों की। पुलिस का कहना है कि कुछ साल पहले नंदलाल की पत्नी अपने एक बच्चे को लेकर चली गयी थी। इसके बाद से नंदलाल अकेला रहता था। इस बात की संभावना है कि शादय मानसिक तनाव के चलते नंदलाल ने आत्महत्या कर ली।

 
 
 
 

You May Also Like

English News