15 महीने के निचले स्तर पर पहुंचा रुपया, गिरावट का ये है बड़ा कारण

शुरुआती कारोबार में डॉलर के मुकाबले रुपया मंगलवार को 7 पैसे टूटकर 67.20 पर खुला. यह पिछले 15 महीने का निचला स्तर है. मुद्रा कारोबारियों के अनुसार इसकी अहम वजह विदेशी मुद्राओं के मुकाबले डॉलर की मजबूती और विदेशी पूंजी का सतत निकास है. इसके अलावा आयातकों की ओर से डॉलर की मांग बढ़ने का असर भी रुपये पर पड़ा है. हालांकि घरेलू शेयर बाजारों की अच्छी शुरुआत से यह गिरावट थम गई.15 महीने के निचले स्तर पर पहुंचा रुपया, गिरावट का ये है बड़ा कारणसोमवार को 67.13 पर बंद हुआ था
सोमवार को डॉलर के मुकाबले रुपया 67.13 पर बंद हुआ था. यह सोमवारत तक का पिछले 15 महीने का निचला स्तर था. आपको बता दें कि कच्चे तेल की कीमत 75 डॉलर प्रति बैरल के स्तर को लांघने से डॉलर की मांग बढ़ने से रुपया कमजोर हुआ है. बाजार सूत्रों ने कहा कि तेल आयातक कंपनियों द्वारा भारी मात्रा में डॉलर खरीद के साथ सटोरिया गतिविधियों के कारण रुपये की धारणा प्रभावित हुई. गौरतलब है कि इससे पहले 8 फरवरी 2017 को रुपया 67.19 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ था.

You May Also Like

English News