17 साल के वाशिंगटन बने IPL के सबसे कम उम्र में मैन ऑफ द मैच, जानिए 12 FACTS

आईपीएल-10 के पहले क्वालिफायर में राइजिंग पुणे सुपरजायंट को फाइनल का टिकट दिलाने में वाशिंगटन सुंदर की अहम भूमिका रही. मुंबई इंडियंस के खिलाफ 20 रनों से जीत में इस उदीयमान ऑफ स्पिनर ने 4 ओवर में 16 रन देकर 3 विकट चटकाए. अपने इस प्रदर्शन की बदौलत उन्होंने आईपीएल में एक साथ दो बड़े रिकॉर्ड बना डाले-ये भी पढ़े: IPL: धोनी के धमाल से झूमे सरे फैन्स, बोले- वाह! ‘महेंद्र सिंह बाहुबली’

1.वाशिंगटन सुंदर ने आईपीएल में सबसे कम उम्र में मैन ऑफ द मैच का अवॉर्ड हासिल करने का रिकॉर्ड बनाया. 17 साल 223 दिनों में यह उपलब्धि हासिल करने वाले वे आईपीएल खिलाड़ी बने. अब तक 18 वर्ष की उम्र से पहले किसी खिलाड़ी को मैन ऑफ द मैच हासिल नहीं हुआ था.

2.इसके साथ ही उन्होंने एक और कारनामा किया. आईपील के किसी एक पारी में सबसे कम उम्र में तीन विकेट हासिल करने का भी रिकॉर्ड बना डाला. उन्होंने कामरान खान के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ा.

 सबसे कम उम्र में तीन विकेट( 3-wkt haul)

 17 साल 223 दिन वाशिंगटन सुंदर, 2017

18 साल 044 दिन कामरान खान, 2009

18 साल 169 दिन प्रदीप सांगवान, 2009

18 साल 181 दिन जयदेव उनादकट, 2010

कौन है यह वाशिंगटन सुंदर ..?

3. यह वही अनकैप्ड वाशिंगटन सुंदर है, जिसे पुणे की टीम में स्टार ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन की जगह टीम में शामिल किया गया. अश्विन स्पोर्ट्स हर्निया की वजह से आईपीएल-10 से बाहर हो गए थे.

4. वाशिंगटन सुंदर 1999 में चेन्नई में पैदा हुए. 11 साल की उम्र से ही क्रिकेट खेलना शुरू किया. पहली बार चेन्नई में सेकंड डिविजन लीग खेली.

5. सुंदर दाएं हाथ के ऑफ स्पिनर हैं, जो बाएं हाथ से बल्लेबाजी करते हैं. वे डेथ ओवर्स में तेजी से रन बना सकते हैं.

6. नेट्स पर गेंदबाजी कर राइजिंग पुणे सुपरजायंट के कप्तान स्टीव स्मिथ को खासा प्रभावित किया, जिसके बाद उन्हें टीम में मौका दिया गया.

7. वाशिंगटन 2014 में 15 साल की उम्र में भारत की अंडर-19 टीम में शामिल कर लिए गए. भारत के 2016 के अंडर-19 वर्ल्ड कप फाइनल तक के सफर में सुंदर का बड़ा योगदान रहा.

8. अंडर-19 में परफॉर्मेंस के बूते वाशिंगटन सुंदर ने अक्टूबर 2016 में तमिलनाडु की ओर से प्रथम श्रेणी क्रिकेट में डेब्यू किया. हालांकि पहले मैच में उन्हें गेंदबाजी की मौका नहीं मिला. ओपनर के तौर पर बल्लेबाजी करते हुए दूसरी पारी में ठोस 40 रन बनाए.

9. 2016 की तमिलनाडु प्रीमियर लीग में अपनी गेंदबाजी से प्रभावित किया. 9 मैचों में 12 के एवरेज से 11 विकेट निकाले. इकोनॉमी रेट 5.54 रहा.

10. वाशिंगटन सुंदर तमिलनाडु की उस टीम में रहे, जिसने 2017 की विजय हजारे ट्रॉफी और देवधर ट्रॉफी जीती.

11. वाशिंटगन सुंदर राइजिंग पुणे सुपरजायंट के ट्रायल में हिस्सा लिया. जम्मू और कश्मीर और भारतीय टीम से खेल चुके परवेज रसूल से उनकी टक्कर थी. कम अनुभवी होने के बावजूद सुंदर को टीम में मौका मिल गया.

12. वाशिंगटन का परिवार का क्रिकेट से खासा जुड़ाव रहा है. पिता सुंदर उनके शुरुआती कोच रहे. बहन एमएस शैलजा भी क्रिकेट खेल चुकी हैं.

You May Also Like

English News