जानिए कैसे 20 सेकंड मे मौत ने 24 लोगों को गले लगा लिया!

पटना: बिहार के पटना मे एनआईटी घाट के पास 20 सेकंड में गंगा नदी में लोगों से भरी नाव अचानक पलट गई| इस हादसे में आब तक २४ लोगो कि मौत हो चुकी है| कई लोग अभी लापता हैं| आशंका है कि मरने वाली कि सांख्य और बढ़ सकती है|इस नाव दुर्घटना पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दुख जताते हुए ट्वीट किया है कि, बचाव और राहत दल को तेजी से काम करने के निर्देश दे दिए गए हैं।

मौके पर मौजूद लोगों ने बताया कि लोग पतंगबाजी देखने के बाद लौट रहे थे जब ये हादसा हुआ। नाव पलटते ही दूसरी नाव से लोगों ने ट्यूब फेंककर मदद करने की कोशिश की। एसडीआरएफ की टीम ने करीब नौ लोगों को बाहर निकालकर उनकी जान बचाई। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मरनेवालों के परिजनों को चार-चार लाख रुपये मुआवजा देने का एलान कर दिया है।गंगा में शनिवार को लोगों से भरी एक नाव पलटने से अब तक 24 लोगों की मौत हो गई। नाव पर 40 से ज्यादा लोग सवार थे। मृतकों में महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं। इस घटना के बाद सीएम नीतीश ने जांच के निर्देश दिए हैं। राहत-बचाव कार्य अभी भी जारी है। NDRF की तीन टीमें इस कार्य में लगी हैं। बिहार सरकार ने मृतकों को चार-चार लाख रुपए मुआवजा देने की घोषणा की है।

२० सेकंड में नदी में समां गई नाव
प्रशासन को जितनी उम्मीद थी, उससे ज्यादा लोग गंगा पार कर सबलपुर दियारा पहुंचे थे। नावें कम थीं।
 पतंगबाजी का इवेंट खत्म होने के बाद लोग तुरंत लौटना चाहते थे। लोगों को एक सब्जी ढोने के काम में आने वाली नाव दिखी और करीब 60 लोग उसपर चढ़ गए। इसके चलते नाव ओवरलोड हुई।
सबलपुर दियारा से लौटते वक्त नाव 25 मीटर दूर जाने पर ही डगमगाने लगी। नाव में से धुआं निकलने लगा।
किनारे पर मौजूद लोग यह चीखते सुनाई दिए कि नाव बीच में से टूट गई है। एक-दो लोगों ने नाव से पानी में छलांग लगा दी।
नाव में तेजी से पानी भरा और देखते ही देखते वह डूब गई। किनारे से दो लोग तुरंत बाकी लोगों की जान बचाने नदी में कूदे। किनारे से जैकेट्स भी फेंकी गई।

You May Also Like

English News