कवि से नेता बने कुमार विश्वास अब बीजेपी का दामन थाम सकते हैं !

मेरठ: कवि से नेता बने कुमार विश्वास अब बीजेपी का दामन थाम सकते हैं | चर्चा है कि वह विश्‍वास गाजियाबाद की साहिबाबाद सीट से आगामी चुनाव लड़ना चाहते हैं। उनकी बीजेपी से बातचीत चल रही है। बात बनने पर इसका एलान हो सकता है। बता दें, इससे पहले विश्वास ने आप के टिकट पर अमेठी  लोकसभा सीट से राहुल गांधी और स्मृति ईरानी के खिलाफ चुनाव लड़ा था, लेकिन वे हार गए थे।

 

अमित शाह से मुलाकात करेंगे विश्‍वास…
बीजेपी सूत्रों ने बताया कि कुमार विश्वास के साथ बातचीत आखिरी फेज में है। माना जा रहा है कि इस बारे में औपचारिक एलान से पहले विश्वास बीजेपी के लखनऊ ऑफिस में अमित शाह से मुलाकात कर सकते हैं।
विश्वास पिछले कुछ महीनों से बीजेपी नेताओं के साथ नजर आ रहे हैं। उसी समय
से ऐसे कयास लगाए जाने लगे थे कि वह बीजेपी में शामिल हो सकते हैं। हाल ही में पंजाब में ‘आप’ की ओर से जारी स्टार प्रचारकों की लिस्‍ट में भी कुमार विश्वास को जगह नहीं दी गई थी। वह आम आदमी पार्टी की तरफ से आयोजित पंजाब और गोवा की रैलियों में भी नजर नहीं आ रहे हैं। राजनाथ के बेटे की भी इस सीट पर नजर सूत्रों के मुताबिक, गृहमंत्री राजनाथ सिंह के बेटे और यूपी बीजेपी के जनरल सेक्रेटरी पंकज सिंह की भी साहिबाबाद सीट पर नजर है। हालांकि, राजनाथ ने शाह को आश्वासन दिया है कि उनके हितों को सुरक्षित रखा जाएगा। सूत्रों की मानें तो पंकज सिंह को चंदौली या नोएडा सीट से चुनाव लड़ाया जा सकता है। 2012 के विधानसभा चुनाव में अमरपाल शर्मा ने बीएसपी टिकट पर साहिबाबाद से चुनाव जीता था।

You May Also Like

English News