2 दिन की छुट्टी में घूमने और एन्जॉय करने के लिए परफेक्ट जगह है चौकोरी

उत्तराखंड के पिथौरागढ़ जिले में बसा चौकोरी गांव बहुत ही खूबसूरत वीकेंड डेस्टिनेशन्स में शामिल है। नैनीताल से महज 173 किमी और बेरीनाग से 10 किमी दूर इस जगह पर टूरिस्टों की बहुत ज्यादा भीड़ नज़र नहीं आती जिससे यहां आने-जाने और होटलों में मिलने वाले रश से बचकर आप आराम से अपना ट्रिप एन्जॉय कर सकते हैं। उत्तराखंड के पिथौरागढ़ जिले में बसा चौकोरी गांव बहुत ही खूबसूरत वीकेंड डेस्टिनेशन्स में शामिल है। नैनीताल से महज 173 किमी और बेरीनाग से 10 किमी दूर इस जगह पर टूरिस्टों की बहुत ज्यादा भीड़ नज़र नहीं आती जिससे यहां आने-जाने और होटलों में मिलने वाले रश से बचकर आप आराम से अपना ट्रिप एन्जॉय कर सकते हैं।    चौकोरी में घूमने वाली जगहें  ऑफ-बीट डेस्टिनेशन होने की वजह से यहां घूमने के बहुत सारे ऑप्शन्स नहीं मिलेंगे लेकिन दोस्तों और पार्टनर के साथ क्वालिटी टाइम बिताने के लिए ये जगह काफी अच्छी साबित होगी।    गंगोलीघाट  चौकोरी से 35 किमी दूर ये जगह समुद्र तल से 1800 मी की ऊंचाई पर है। कुमांयु पहाड़ों के बीच बसे कालीमाता के इस मंदिर की अपनी अलग महत्ता है. यहां से 14 किमी का सफर तय करके आप मशहूर पाताल भुवनेश्वर की गुफा तक पहुंच सकते हैं।   शोरगुल और भीड़ से दूर माशोबरा के जंगलों में घूमने का अलग ही है मजा यह भी पढ़ें असको सेंक्चुअरी   इस सेंक्चुअरी में आपको कस्तूरी मृग देखने को मिलेंगे। इसके अलावा और भी कई सारे दूसरे खूबसूरत पक्षियों का घर है ये जगह

चौकोरी में घूमने वाली जगहें

ऑफ-बीट डेस्टिनेशन होने की वजह से यहां घूमने के बहुत सारे ऑप्शन्स नहीं मिलेंगे लेकिन दोस्तों और पार्टनर के साथ क्वालिटी टाइम बिताने के लिए ये जगह काफी अच्छी साबित होगी।

गंगोलीघाट

चौकोरी से 35 किमी दूर ये जगह समुद्र तल से 1800 मी की ऊंचाई पर है। कुमांयु पहाड़ों के बीच बसे कालीमाता के इस मंदिर की अपनी अलग महत्ता है. यहां से 14 किमी का सफर तय करके आप मशहूर पाताल भुवनेश्वर की गुफा तक पहुंच सकते हैं।

असको सेंक्चुअरी 

इस सेंक्चुअरी में आपको कस्तूरी मृग देखने को मिलेंगे। इसके अलावा और भी कई सारे दूसरे खूबसूरत पक्षियों का घर है ये जगह

You May Also Like

English News