2017 के इन 5 मैचो को दोबारा कभी याद नहीं करना चाहेगी टीम इंडिया

साल 2017 में भारतीय क्रिकेट टीम ने कई नए रिकॉर्ड हासिल किए और ये साल टीम इंडिया के लिए सबसे सुनहरा साल रहा. लेकिन इसी साल पाकिस्तान के खिलाफ भारत चैंपियंस ट्रॉफी का फाइनल भी हारा और टीम श्रीलंका के खिलाफ धर्मशाला वनडे में सिर्फ 112 रन पर ढेर भी हुई. साल 2017 के उन 5 मैचों के बारे में बताते हैं जिन्हें भारतीय टीम कभी याद नहीं करना चाहेगी.

चैंपियंस ट्रॉफी का फाइनल हारा

भारतीय खेल प्रेमियों को टीम का कोई भी मैच हारना तो खलता ही है लेकिन पाकिस्तान के खिलाफ हारना और वो भी किसी बड़े मुकाबले में ज्यादा दर्दनाक हो जाता है. 18 जून को ओवल के मैदान पर ऐसी ही दर्द भरी दास्तान लिखी गई जब चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में भारत को हार का सामना करना पड़ा. टूर्नामेंट से पहले कमजोर मानी जा रही पाकिस्तान टीम ने उलटफेर करते हुए 180 रन के बड़े अंतर से चैंपियंस ट्रॉफी का खिताब जीता.

धर्मशाला में ढह गई टीम

श्रीलंका से इस साल भारत दो-दो बार वनडे सीरीज जीत चुका है लेकिन 10 दिसंबर का धर्मशाला वनडे किसी बुरे सपने जैसा था. पहले बल्लेबाजी करने उतरी टीम इंडिया 38.2 ओवर में महज 112 रन पर ढेर हो गई, हालत ये रही कि टीम के 8 बल्लेबाज तो दहाई का आंकड़ा भी नहीं छू सके. श्रीलंका ने 7 विकेट और 176 गेंद रहते ही ये मुकाबला बड़ी आसानी से जीत लिया.

घरेलू मैदान पर पहले बल्लेबाजी करते हुए ये वनडे में भारत का निम्नतम स्कोर था. भारत का वनडे में अब तक का सबसे कम स्कोर श्रीलंका के ख़िलाफ़ ही रहा है. शारजाह में 29 अक्टूबर, 2000 को भारतीय टीम श्रीलंका के ख़िलाफ़ महज 54 रनों पर सिमट गई थी.      

कंगारुओं ने पुणे में निकाला पसीना

फरवरी में खेले गए पुणे टेस्ट में भी टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया के सामने पस्त नजर आई. इस टेस्ट ऑस्ट्रेलिया ने पहली पारी में 260 रन बनाए जिसके जवाब में भारतीय टीम 105 पर ही ऑलआउट हो गई जबकि दूसरी पारी में भारत महज 107 रन बना सका. कंगारू टीम ने ये मैच 333 रनों से जीता. कप्तान कोहली इस मैच की पहली पारी में जीरो पर आउट हुए जबकि दूसरी में सिर्फ 13 रन बना सके.

गुवाहाटी टी-20 में बड़ी हार

वनडे और टेस्ट के अलावा टीम इंडिया गुवाहाटी टी-20 में भी बड़ी हार का सामना करना पड़ा. 10 अक्टूबर को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 118 रन बनाए लेकिन दो कंगारू बल्लेबाजों के अर्धशतकों की बदौलत भारत 8 विकेट से ये मैच हार गया. ऑस्ट्रेलिया ने 27 गेंद रहते ही बड़ी आसानी से लक्ष्य हासिल किया.

कोटला में बदनाम हुए मेजबान

दिसंबर में भारत-श्रीलंका के बीच खेला गया कोटला टेस्ट भी टीम के लिए शर्मसार करने वाला रहा. मैच में भारत अपने प्रदर्शन की वजह से नहीं बल्कि फॉग की वजह से बदनाम हुआ जब श्रीलंकाई खिलाड़ी मैदान पर मास्क पहने फील्डिंग करने उतरे. मैच कुछ देर तक बाधित भी रहा, जिसके बाद ग्लोबल मीडिया में ये मुद्दा काफी छाया रहा.

You May Also Like

English News