2019 में कांग्रेस के साथ रहेंगे-देवगौड़ा

महागठबंधन को लेकर चल रही अटकलों के बीच जनता दल (एस) के प्रमुख एच डी देवगौड़ा ने लोकसभा चुनाव में सभी के साथ मिलकर लड़ने की संभावना पर संशय जताया है. उन्होंने कहा कर्नाटक के मुख्यमंत्री के शपथग्रहण समारोह आये सभी दल साथ रहे जरुरी नहीं है. देवगौड़ा ने बीजेपी के खिलाफ तीसरे मोर्चे की भूमिका को भी दोहराया .महागठबंधन को लेकर चल रही अटकलों के बीच जनता दल (एस) के प्रमुख एच डी देवगौड़ा ने लोकसभा चुनाव में सभी के साथ मिलकर लड़ने की संभावना पर संशय जताया है. उन्होंने कहा कर्नाटक के मुख्यमंत्री के शपथग्रहण समारोह आये सभी दल साथ रहे जरुरी नहीं है. देवगौड़ा ने बीजेपी के खिलाफ तीसरे मोर्चे की भूमिका को भी दोहराया .  देवगौड़ा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सत्तारूढ़ पार्टी की ओर से राज्यों में अपने कैडरों को साफ ‘‘संकेत ’ है कि वे जल्द ही नवंबर-दिसंबर में लोकसभा चुनावों के लिए तैयार रहें. उन्होंने कहा, ‘ये आवश्यक नहीं है कि कर्नाटक के मुख्यमंत्री के रूप में कुमारस्वामी के शपथग्रहण समारोह में शामिल होने वाली पार्टियां सभी राज्यों में मिलकर लड़ेंगी.’ कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस, बसपा, आप, माकपा और टीडीपी के शीर्ष नेता पिछले महीने बेंगलूरू में कुमारस्वामी के शपथग्रहण समारोह में शामिल हुए थे.  देवगौड़ा ने कहा कि सपा और बसपा आम चुनाव में उत्तर प्रदेश में चालीस-चालीस सीट साझा करने पर चर्चा कर रही हैं.उन्होंने कहा, ‘कर्नाटक में कांग्रेस के साथ कुछ मुद्दे होने के बावजूद हम उसके साथ मिलकर लड़ेंगे.'  सीट बंटवारे पर उन्होंने कहा, ‘मुद्दे पर अब तक कोई चर्चा नहीं हुई है... कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और कुमारस्वामी चर्चा करेंगे और इसे अंतिम रूप देंगे.’

देवगौड़ा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सत्तारूढ़ पार्टी की ओर से राज्यों में अपने कैडरों को साफ ‘‘संकेत ’ है कि वे जल्द ही नवंबर-दिसंबर में लोकसभा चुनावों के लिए तैयार रहें. उन्होंने कहा, ‘ये आवश्यक नहीं है कि कर्नाटक के मुख्यमंत्री के रूप में कुमारस्वामी के शपथग्रहण समारोह में शामिल होने वाली पार्टियां सभी राज्यों में मिलकर लड़ेंगी.’ कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस, बसपा, आप, माकपा और टीडीपी के शीर्ष नेता पिछले महीने बेंगलूरू में कुमारस्वामी के शपथग्रहण समारोह में शामिल हुए थे.

देवगौड़ा ने कहा कि सपा और बसपा आम चुनाव में उत्तर प्रदेश में चालीस-चालीस सीट साझा करने पर चर्चा कर रही हैं.उन्होंने कहा, ‘कर्नाटक में कांग्रेस के साथ कुछ मुद्दे होने के बावजूद हम उसके साथ मिलकर लड़ेंगे.’  सीट बंटवारे पर उन्होंने कहा, ‘मुद्दे पर अब तक कोई चर्चा नहीं हुई है… कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और कुमारस्वामी चर्चा करेंगे और इसे अंतिम रूप देंगे.’

You May Also Like

English News