21 साल की ये लड़की समाज को ख़ास मैसेज देने के लिए घूम रही है न्यूड

इंस्टाग्राम पर एक 21 साल की महिला अपने एक अनोखे कैंपेन के सहारे लोकप्रियता और सुर्खियां बटोर रही हैं. ऑस्ट्रेलिया के कई शहरों की खूबसूरत जगहों पर जाकर इस महिला को अपनी न्यूड तस्वीरें खिंचवाने का शौक है.

स्टेर का जन्म नीदरलैंड्स में हुआ था और पिछले काफी समय से वे ऑस्ट्रेलिया में रह रही हैं और यहां की ख़ूबसूरत जगहों में घूम-घूमकर अपनी तस्वीरें खींचती है. उनकी ज़्यादातर तस्वीरों में वो न्यूड ही हैं, वहीं बैकग्राउंड में खूबसूरत प्राकृतिक नज़ारों को देखा जा सकता है. स्टेर, इंस्टाग्राम पर ‘ए नेकेड गर्ल’ नाम से मौजूद हैं और उनके 56000 फ़ॉलोअर्स हैं.

लेकिन ऐसा नहीं है कि अपनी तस्वीरों के सहारे वे अपने फ़ॉलोअर्स को उत्तेजित करने का प्रयास कर रही हैं. स्टेर का मानना है कि न्यूड रहने का मतलब Sexually किसी को उत्तेजित करना नहीं, बल्कि बॉडी पॉज़िटिविटी को प्रमोट करना है. वे कहती हैं कि न्यूड होना एक नेचुरल चीज़ है और ये किसी भी तरह से अजीबोगरीब की श्रेणी में नहीं आता और न ही मैं अपनी फ़ोटोज़ के द्वारा किसी तरह की अटेंशन लेने का प्रयास करती हूं.

आज भी किसी के न्यूड होने पर दूसरे लोगों को तकलीफ़ या असहजता होेने लगती है. ये बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है कि आज भी दुनिया में लोग न्यूडनेस को Non-sexual तरीके से देख ही नहीं पाते हैं.

वो अपने आपको एक ऐसी डच लड़की बताती हैं जिसका मकसद दुनिया घूमना है और जिसे प्रकृति की वादियों में समय बिताना बेहद पसंद है. स्टेर का सपना है कि वो दुनिया के हर देश की यात्रा करना चाहती हैं और इन देशों की बेमिसाल जगहों में जाकर अपनी तस्वीरें क्लिक करें. हालांकि उनका फ़ेवरेट देश आज भी ऑस्ट्रेलिया बना हुआ है.  

21 साल की इस महिला को मच्छरों और बड़ी-बड़ी मकड़ियों से भी जूझना पड़ा है. कई बार मच्छरों द्वारा काटे जाने पर स्टेर के शरीर के कई हिस्सों पर लाल स्पॉट्स भी हो गए थे. स्टेर अपना काफी वक्त दुर्लभ लोकेशन की तलाश में बिताती हैं, शायद यही कारण है कि उन्हें अब तक केवल एक बार एक शख़्स ने न्यूड अवस्था में देखा है.  एक दिन क्वीनस्लैंड के फ़िंच हैटन जॉर्ज से गुज़रने के दौरान उन्हें एक शख़्स ने न्यूड देखा था. उन्होंने कहा कि मैं दुर्लभ और दुर्गम लोकेशन को ढूंढने के लिए काफी रिसर्च करती हूं ताकि लोगों से बहुत दूर, प्रकृति के साए में थोड़ा समय बिता सकूं.

उन्होंने कहा कि भागती-दौड़ती ज़िंदगी, बेहतर होती टेक्नोलॉजी और निराशा भरे रिश्तों के बीच जो सबसे ज़रूरी है वो यही है कि मुझे नियमित रूप से प्रकृति की छांव में वक्त बिताने का मौका मिलता रहे. स्टेर के कई फ़ॉलोअर्स भी उनके इस तरीके को अपनाना चाहते हैं लेकिन सोसाइटी की प्रतिक्रिया को लेकर अनिश्चित नज़र आते हैं लेकिन स्टेर का मानना है कि वे आगे भी बॉडी पॉज़िटिविटी के इस संदेश को लोगों के सामने रखती रहेंगी.  

You May Also Like

English News