24 घंटे में कई सड़क हादसे, कहीं निकली मासूमों की चीख, तो कहीं…

अप्रैल के दूसरे हफ्ते का पहला दिन हादसों के नाम रहा। देश के अलग-अलग हिस्सों में हुई दुर्घटनाओं में 50 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई और कई अब भी जिंदगी और मौत के बीच झूल रहे हैं। पहला हादसे की खबर हिमाचल प्रदेश से आई, जहां बच्चों से भीर स्कूल बस खाई में गिर गई। दूसरा हादसा आगरा में हुआ, जहां जीप और डंपर की भिड़ंत में हो गई। वहीं तीसरा हादसा मंगलवार सुबह महाराष्ट्र के पुणे-सतारा हाइवे पर हुआ।24 घंटे में कई सड़क हादसे, कहीं निकली मासूमों की चीख, तो कहीं...पहला हादसा कांगड़ा में हुआ, जिसमें छात्रों से भरी स्कूल बस 700 फीट गहरी खाई में जा गिरी। इस दुर्घटना में ड्राइवर समेत 27 बच्चों की मौत हो गई। हादसे में 4 से 12 साल की उम्र के बीच के 23 बच्चों की मौत हुई है। हादसा इतना भयानक था कि अधिकतर की मौके पर ही जान चली गई।

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार संपर्क मार्ग पर सामने से तेज रफ्तार में आ रही मोटरसाइकिल को बचाने के चलते यह हादसा हुआ। दरअसल, 34 बच्चों और दो शिक्षकों को लेकर चालक अभी तीन किमी दूर मलकवाल-ठेहड़ लिंक रोड पर चेली गांव के पास ही पहुंचा था कि बाइक को बचाते समय बस खाई में गिर गई।

वहीं आगरा में हुए सड़क हादसे में सात लोग मौत के मुंह में समा गए। घटना खैरागढ़ रोड पर हुई, जब एक जीप और डंपर में आमने-सामने की भिड़ंत हो गई।

इस भीषण दुर्घटना में जीप में सवार छह लोगों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि एक घायल युवक ने एसएन मेडिकल कॉलेज में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। घटना के बाद डंपर का चालक मौके से फरार हो गया। स्थानीय लोगों ने हादसे की सूचना पुलिस को दी।

मंगलवार की सुबह की शुरुआत भी हादसे के साथ हुई। खंडाला के पास पुणे-सतारा हाइवे पर लोगों से भरा ट्रक बैरिकेड से टकरा गया, जिससे 17 की मौत हो गई और 15 से ज्यादा घायल हो गए।

You May Also Like

English News