24 सालों तक पिता ने 3 हजार बार किया बेटी का रेप, कैद में 7 बार हुई प्रेग्नेंट, देखे विडियो

अप्रैल 2008 में UK में एक ऐसा मामला सामने आया था, जिसमें पिता ने 24 साल तक अपनी ही बेटी को सेक्स स्लेव बनाकर रखा था। उसने इस दौरान 3000 से ज्यादा बार बेटी से रेप किया। रेप विक्टिम ने 7 बच्चों को जन्म दिया। दोषी पिता का नाम है जोसफ फ्रिट्जल। उसकी ज्यादती की पूरी कहानी अब एक पुलिस अफसर विलिबाल्ड रैटनर के जरिए सामने आई है। अफसर के मुताबिक, जब रेप विक्टिम को बचाया गया तो उसने कहा था कि मेरी बातों पर कोई यकीन नहीं करेगा। जब बेटी 11 साल की थी, तभी से हो रही थी छेड़छाड़ की शिकार…
UK के चैनल 5 की डॉक्युमेंट्री में पुलिस अफसर रैटनर ने बताया कि मामला सामने आने के बाद एलिजाबेथ ने पुलिस को 2 घंटे तक दिए बयान में कहा था कि पिता ने 11 साल की उम्र से ही उसके साथ छेड़छाड़ शुरू कर दी थी। 18 की होने के बाद एक दिन उसके पिता बहाने से उसे घर के बेसमेंट में ले गया, जहां उसे बेहोश कर दिया गया। एलिजाबेथ को इसी सीक्रेट रूम में 24 साल बिताने पड़े, जहां जोसफ ने उनके साथ कई बार रेप किया। 
 
तहखाने में बना था सीक्रेट कमरा
जोसफ ने अपने घर के तहखाने में सीक्रेट रूम बना रखा था। उसके अंदर भी एक सीक्रेट दरवाजा था। इसी दरवाजे से उस कमरे में एंट्री होती थी जहां जोसफ ने बेटी को बंधक बनाकर रखा था। जोसफ ने किसी को भी वहां जाने से मना कर रखा था। वो सभी को ये कहता कि वहां वो अपना काम करने जाता है, इसलिए कोई उसे डिस्टर्ब ना करे। पुलिस अफसर के मुताबिक, विक्टिम ने सीक्रेट रूम में 7 बच्चों को जन्म दिया, इनमें से 4 एलिजाबेथ के साथ वहीं छोड़ दिए गए। एक की मौत जन्म के 3 दिन बाद ही हो गई थी। बाकी के 3 बच्चों को जोसफ ने अपनी बीवी के साथ मिलकर पाला। 
 उम्रकैद की सजा काट रहा है जोसफ
मामला सामने आने के बाद पुलिस ने जोसफ को अरेस्ट कर लिया। ऑस्ट्रिया में चले मुकदमे के बाद 2009 में जोसफ को उम्रकैद की सजा सुनाई गई। जोसफ अब 82 साल का है। उसकी बेटी 51 साल की हो चुकी है। वह ऑस्ट्रिया में अपने 6 बच्चों के साथ रह रही है। वह कभी भी अपने पिता का चेहरा नहीं देखना चाहती।
पिता ने दुनिया से छुपाया
जोसफ की बीवी यानी विक्टिम की मां को इस बात की जानकारी नहीं थी कि उसके घर के बेसमेंट में ही उसकी बच्ची रह रही है और उसके साथ उसका पिता 24 सालों तक रेप करता रहा। जब जोसफ ने एलिजाबेथ को कैद किया था, तब उसने पुलिस को एक चिट्ठी दिखाई थी, जिसमें लिखा था कि एलिजाबेथ घर छोड़कर अपनी दोस्त के पास जा रही है और कोई उसे ढूंढने की कोशिश ना करे। 
पुलिस को ऐसे हुआ शक
2008 में एलिजाबेथ की बड़ी बेटी की तबियत ज्यादा खराब हुई और उसे हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया। बेटी की बिगड़ी हालत को देखते हुए जोसफ आखिरकार एलिजाबेथ को हॉस्पिटल भेजने के लिए मान गया। उसने सभी को बताया कि एलिजाबेथ वापस आ गई है। इसी दौरान पुलिस को शक हुआ और उसने एलिजाबेथ से पूछताछ की। इसके बाद सारा मामला सामने आया। ये खबर कई दिनों तक अखबारों की सुर्खियां बनी।
 
 

You May Also Like

English News