काले धन वालो की एक बार फिर मार, नकदी लेन-देन पर भी जरूरी हो सकता है PAN

नई दिल्ली। नोटबंदी और नकदी लेन-देन पर लगाए गए प्रतिबंधों के बाद सरकार ने जो कम कैश वाली अर्थव्यवस्था की जो गति हासिल की है, उसे खोना नहीं चाहती है। इसके चलते कुछ कड़े कदम सरकार जल्द ही उठा सकती है।

राम का नाम लेने से कांग्रेस ने चुनाव आयोग से पीएम मोदी की शिकायतकाले धन वालो की एक बार फिर मार, नकदी लेन-देन पर भी जरूरी हो सकता है PAN

पेट्रोलियम मंत्री का बड़ा एलान 30-35 रुपए लीटर पेट्रोल बेचेगी केंद्र सरकार

 कयास लगाए जा रहे हैं कि कैश के लेन-देन को हतोत्साहित करने के लिए सरकार बजट में घोषणा कर सकती है। सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी के अनुसार, सरकार नकद लेन-देन में पैन देने की सीमा में कमी कर सकती है।

बताया जा रहा है कि वर्तमान में 50 हजार रुपए से अधिक के नकद लेन-देन पर पैन देने की सीमा को कम करके 30 हजार रुपए तक लाया जा सकता है। इसके अलावा सरकार एक सीमा से अधिक नकदी निकालने पर कैश हैंडलिंग चार्जेस भी लगा सकती है।

इन कदमों से सरकार कम नकदी वाली अर्थव्यवस्था के रास्ते पर चल सकती है। वैसे सरकार द्वारा एटीएम से कैश निकालने की सीमा बढ़ा दिए जाने के बाद आशंका जताई जा रही है कि इससे अर्थव्यवस्था नोटबंदी के पहले वाली स्थिति में आ जाएगी।

You May Also Like

English News