31 घंटे तक बिजली-पानी संकट से जूझे

KANPUR: बेकाबू हो चुके बिजली संकट को लेकर लोगों में गुस्सा बढ़ता जा रहा है. मंडे को महिलाओं और व्यापारियों ने कल्याणपुर सबस्टेशन में दीए और मोमबत्ती जलाकर विरोध जताया. वहीं कांग्रेसियों ने केस्को मुख्यालय गेट पर धरना-प्रदर्शन और नारेबाजी कर गुस्सा जाहिर किया.

सबस्टेशन पर बोला धावा
किदवई के ब्लाक सबस्टेशन से जुड़ी 60 हजार से अधिक आबादी को संडे को दिनभर बिजली संकट से जूझना पड़ा था. देर रात तक लाइट न आने पर लोगों का गुस्सा फूट पड़ा. उन्होंने सबस्टेशन का घेराव किया. पुलिस ने मौके पर पहुंचकर स्थिति संभाली. इससे पहले नौबस्ता सबस्टेशन में भीड़ के पहुंचने पर मदद के लिए पुलिस बुलानी पड़ी. गुलमोहर विहार, साकेत नगर, केशव नगर, निराला नगर आदि मोहल्ले के लोगों को वाटर क्राइि1सस से भी जूझना पड़ा.

ठप रहे कई सबस्टेशन
एचएएल सबस्टेशन का जले पावर ट्रांसफार्मर की जगह मंडे की दोपहर 10 एमवीए का ट्रांसफार्मर लगाकर पावर सप्लाई की जा सकी. सबस्टेशन से जुड़े शक्ति नगर, पटेल नगर, सदानन्द नगर, सैनिक नगर, अहिरवां गांव, विमान नगर, चेत नगर, एचएएल लेबर कालोनी आदि मोहल्ले के लोगों को 31 घंटे तक बिजली-पानी संकट से जूझना पड़ा. उधर नवाबगंज डिवीजन में 20 हजार की आबादी को मंडे सुबह से दोपहर तक पावर क्राइसिस से जूझना पड़ा. दोपहर में चमनगंज, चीना पार्क, साइकिल मार्केट, जीआईसी आदि सबस्टेशन ठप रहे. गुमटी का ओम नगर फीडर मेंटीनेंस वर्क की वजह से सुबह 10.30 से दोपहर 3.30 बजे तक ठप रहा. शिवकटरा व आसपास मोहल्लों के लोगों को दोपहर भर पावर क्राइसिस से जूझना पड़ा.

You May Also Like

English News