37,000 करोड़ के घोटाले के बाद नोएडा में सामने आया 500 करोड़ का वेबवर्क

नई दिल्ली : 37,000 करोड़ के लाइक्स घोटाले के बाद इसी तर्ज पर काम करने वाली एक और कंपनी वेबवर्क के ढाई लाख इन्वेस्टर्स की 500 करोड़ से ज्यादा की रकम फंसती नजर आ रही है।

 37,000 करोड़ के घोटाले के बाद नोएडा में सामने आया 500 करोड़ का वेबवर्क

कंपनी ने शनिवार को अखबारों में नोटिस देकर कहा कि अब वह 20 अप्रैल के बाद ही स्थायी रूप से काम शुरू करेगी। हालांकि नोटिस में इन्वेस्टर्स के पैसे लौटाने की बात कही गई है।

नोटिस के मुताबिक, बैंकिंग सिस्टम में फेरबदल के चलते ऑनलाइन पेमेंट में दिक्कत आ रही है। जैसे ही बैंकिंग सिस्टम ठीक होगा, कंपनी पेमेंट और काम शुरू कर देगी। नोटिस में 20 अप्रैल की तारीख के साथ एक-दो महीने भी लिखा है, जिससे लोगों में भ्रम की स्थिति है। बताया जा रहा है कि कानूनी शिकंजे से बचने के लिए कंपनी ने अपना दफ्तर बंद कर दिया है। आगे यह कब खुलेगा, इसका कोई अंदाजा नहीं है।
गौरतलब है कि नोएडा सेक्टर 2 स्थित इस कंपनी ने सितंबर 2016 में काम शुरू किया था। सिर्फ 5 महीने में उसका कारोबार 500 करोड़ से ज्यादा हो गया। सोशल ट्रेड एक क्लिक के 5 रुपये देती थी, जबकि यह कंपनी 6 रुपये देने का दावा कर रही थी।

You May Also Like

English News