4 सैनिक शहीद: पाक सेना की फायरिंग जारी, LoC के पास 84 स्कूल बंद

राजौरी जिले के भीमबेर और मंझाकोट सेक्टर में पाकिस्तान की तरफ से भारी गोलाबारी जारी है। इस गोलाबारी में अब तक भारतीय सेना के चार जवान शहीद हो गए हैं। 84 स्कूल फिलहाल बंद कर दिए गए हैं। 4 सैनिक शहीद: पाक सेना की फायरिंग जारी, LoC के पास 84 स्कूल बंदकुछ दिन की खामोशी के बाद रविवार को फिर से पाक सेना ने नियंत्रण रेखा पर सीजफायर का उल्लंघन किया। राजौरी जिले के भीमबेर और मंझाकोट सेक्टर में भारी गोलाबारी की। इस गोलाबारी में लेफ्टिनेंट समेत चार जवान शहीद हो गए। वहीं गोलाबारी में तीन जवानों समेत पांच लोग भी घायल हुए हैं।

बताया जा रहा है कि पाकिस्तान की तरफ से रूक-रूककर रातभर गोलीबारी हुई। अभी सीमा पर गोलीबारी हो रही है। गोलीबारी के चलते 84 स्कूलों को फिलहाल बंद कर दिया गया है। 

भारतीय सेना भी पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब दे रही है। भारतीय सेना के जवानों की पकिस्तान की ऊंचाई पर स्थित रिंगकंटूर और नेजापीर चौकियों के आसपास भीषण आग लग गई, जिससे पाकिस्तानी सेना को भारी नुकसान उठाना पड़ा है।

शाहपुर क्षेत्र में बसने वाले लोगों का कहना है कि जवाबी कार्रवाई से पाकिस्तान अधिकृत शाहपुर और कीरन क्षेत्र में धुआं ही धुआं दिखाई दे रहा था। इसके पहले उसने रविवार सुबह भी पुंछ जिले के शाहपुर सेक्टर में भारी गोलाबारी की थी जिसमें सेना का एक जवान व दो ग्रामीणों गंभीर रूप से घायल हो गए थे।

घायल सेना के जवान की पहचान 278 आर्टलरी बटालियन के गनर किशोर कुमार मुन्ना के रूप में हुई है। उसका पुंछ के सैन्य अस्पताल में इलाज चल रहा है। घायल लड़की गुलनाज अख्तर (15) और यासीन आरिफ (14) निवासी इस्लामाबाद को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

डीसी पुंछ तारिक अहमद ने सुरक्षा के एहतियात के तौर पर एलओसी से पांच किलोमीटर के दायरे में आने वाले 84 स्कूलों को बंद कर दिया है। उन्होंने बताया कि सुंदरबनी से लेकर मंजाकोट तक एलओसी के सभी स्कूल अगले आदेश तक बंद रहेंगे। इसके साथ ही प्रशासन की ओर से ग्रामीणों को सतर्क रहने की भी हिदायत दी गई है। 

सैन्य सूत्रों के मुताबिक पाक ने एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल (एटीजीएम) का इस्तेमाल किया है। इसका इस्तेमाल बंकरों को उड़ाने में किया जाता है। पहले से ही इसमें दिशा तय होती है और वह निर्धारित लक्ष्य को ध्वस्त करने की कार्रवाई करता है। 

शहीदों की पहचान 15 जेकलाई के लेफ्टिनेंट कपिल कंडू (गांव-रनिसका, तहसील-पटौदी, जिला-गुड़गांव), रायफल मैन राम अवतार (गांव-बराका, ग्वालियर), रायफलमैन शुभम सिंह (गांव-मुकुंदपुर चौधरियां, तहसील-मढ़ीन, कठुआ) और हवलदार रोशन लाल (गांव-निकोलस, तहसील-घगवाल, जिला-सांबा) के रूप में हुई है।

इसके अलावा एक लांस नायक इकबाल अहमद घायल भी हुए हैं। बताया जा रहा है कि शहीद व घायल सभी सेना की बारूद पोस्ट पर तैनात थे। मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती तथा उप मुख्यमंत्री डा. निर्मल सिंह ने जवानों की शहादत पर शोक प्रकट किया है। साथ ही इनके परिवार के प्रति सहानुभूति जताई है। 

You May Also Like

English News