417 साल पहले शुरू हुई थी ईस्ट इंडिया कंपनी, फिर ऐसे हुई भंग

1600 में आज ही के दिन इंग्लैड की महारानी एलिजाबेथ प्रथम ने ‘द गवर्नर एंड कंपनी ऑफ मर्चेंट्स ऑफ लंदन ट्रेडिग इन ईस्ट इंटीज’ या ईस्ट इंडिया कंपनी की स्थापना के स्वीकृति दी थी.417 साल पहले शुरू हुई थी ईस्ट इंडिया कंपनी, फिर ऐसे हुई भंग

बड़ी खुशखबरी: 25000 रु सैलरी के साथ इस विवि में नौकरी का शानदार अवसर

जानें ईस्ट इंडिया कंपनी से जुड़ी कुछ बातें…

– इस कंपनी के पूर्वी द्वीप समूह के देशों से व्यापार करने के एकाधिकार दिया गया था.

– कंपनी का गठन मसाले के व्यापार के लिए किया गया था.

– उस दौर में स्पेन और पुर्तगास का एकाधिकार था.

-समय के साथ कंपनी ने मसाले के अलावा कपास, रेशम, चाय, नील और अफीम की व्यापार शुरू कर दिया था. 

– ईस्ट इंडिया कंपनी ने भारत के तत्कालीन मुगल बादशाह जहांगीर से व्यापार और सूरत में कारखाना लगाने की इजाजत लेकर व्यापार शुरू किया था.

– 200 साल के भीतर लगभग पूरे भारत को कब्जे में लिया गया था.

– साल 1857 में भारतीय सेना के विद्रोह के बाद ईस्ट इंडिया कंपनी को एक 1 जनवरी 1874 को भंग कर दिया था.

You May Also Like

English News