43 साल बाद आर्मी चीफ ने पहनी अपने स्कूल की यूनिफार्म, फिर गुनगुनाया स्कूल सांग….

सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने 43 साल बाद अपने स्कूल की टाई और ब्‍लेजर पहनी। बता दें कि जनरल बिपिन रावत कैम्ब्रियन हॉल के पूर्व छात्र हैं और वह कैम्ब्रियन हॉल के स्थापना दिवस समारोह में हिस्सा लेने दून पहुंचे।43 साल बाद आर्मी चीफ ने पहनी अपने स्कूल की यूनिफार्म, फिर गुनगुनाया स्कूल सांग....अभी-अभी आई एक बुरी खबर: HC ने शिक्षामित्रों के बाद माध्यमिक शिक्षकों के समायोजन पर लगी रोक

शाम को सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत देहरादून स्थित कैम्ब्रियन हॉल के स्थापना दिवस समारोह में बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए। इस मौके पर प्रधानाचार्य डॉ. एचसी बयाला ने उनका स्‍वागत किया। यहां जनरल रावत स्कूल ड्रेस में शामिल हुए। इस दौरान उन्‍होंने स्कूल सांग भी गुनगुनाया।

गौरतलब है कि जनरल रावत ने इस स्कूल में लगभग तीन साल तक अध्ययन किया। इसके बाद उनके पिता का स्थानांतरण होने के कारण वह शिमला चले गए।

1978 में आइएमए से पास आउट

मूलरूप से पौड़ी जिले के ग्राम सैणा, ब्लॉक द्वारीखाल निवासी जनरल रावत ने वर्ष 1978 में आइएमए से पास आउट होने के बाद 11वीं गोरखा रायफल की पांचवीं बटालियन में अपनी ज्वानिंग दी थी।

आइएमए में उन्हें प्रतिष्ठित स्वार्ड ऑफ ऑनर से नवाजा गया था। उनके पिता लक्ष्मण सिंह रावत भी सेना में उच्च पद पर थे। वे सहायक प्रमुख के पद से सेवानिवृत्त हुए थे।

You May Also Like

English News