6 साल बाद पाकिस्तान पहुंची मलाला यूसुफजई, गुप्त रखा गया कार्यक्रम

नोबेल पुरस्कार विजेता मलाला युसूफजई बुधवार देर रात पाकिस्तान पहुंची। खुद पर हुए हमले के 6 साल बाद मलाला ने पाकिस्तान की धरती पर कदम रखा। साल 2012 में तालिबानी संगठन के एक बंदूकधारी ने मलाला पर लड़कियों की शिक्षा की वकालत करने से नाराज होकर सिर पर गोली मार दी थी। इस घटना के 6 साल बाद मलाला एक बार फिर पाकिस्तान पहुंची है। एतिहातन उनके कार्यक्रम को बेहद गुप्त रखने का प्रयास किया गया था लेकिन ऐसा हो नहीं सका। 6 साल बाद पाकिस्तान पहुंची मलाला यूसुफजई, गुप्त रखा गया कार्यक्रम

 

हमले के बाद से ही मलाला इंग्लैंड में रह रही हैं। पाकिस्तान के टीवी चैनल के मुताबिक मलाला का विमान बुधवार रात 1 बजकर 40 मिनट पर इस्लामाबाद के बेनजीर भुट्टो इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर पहुंचा। अपनी यात्रा के दौरान मलाला पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद अब्बासी से मुलाकात करेंगी। मलाला के कार्यक्रम में सेना प्रमुख कमर जावेद बाजवा से मीटिंग भी शामिल है। इसके अलावा पाकिस्तान में ‘मीट द मलाला’ कार्यक्रम का भी आयोजन किया जाएगा। यहां भी मलाला शिरकत करेंगी। 

आपको बता दें कि साल 2012 के अक्टूबर महीने में पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के अंतर्गत स्वात घाटी में मलाला अपनी दोस्तों के साथ स्कूल बस में जा रही थीं। उसी वक्त कुछ बंदूकधारी तालिबानियों ने बस को रोक लिया और बस में बैठी लड़कियों से उनका नाम पूछने लगे। मलाला का नाम सुनते ही उन्होंने सिर में गोली मार दी। इस घटना ने मलाला को मानव अधिकारों का ग्लोबल लीडर बना दिया। इसके बाद मलाला ने लड़कियों की शिक्षा के कैंपेन को ग्लोबल मंच पर उठाया। 

सिर पर गोली लगने के बावजूद मलाला ने हार नहीं मानी, मौत को मात देने के बाद मलाला ने ब्रिटेन में अपनी पढ़ाई पूरी की। साल 2014 में उन्हें नोबल पुरस्कार से सम्मानित किया गया। अपनी पढ़ाई के दौरान भी मलाला ने अपनी कैंपनिंग जारी रखी। 

You May Also Like

English News